MP में इस साल वरिष्ठ नागरिकों के लिए तीर्थयात्रा योजना 21 जनवरी से शुरु होगी

Pilgrimage scheme
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार इस वर्ष शनिवार से वरिष्ठ नागरिकों के लिए विशेष तीर्थयात्रा कार्यक्रम शुरु करने जा रही है और अगले दो महीनों में लगभग 20 हजार श्रद्धालुओं को विभिन्न धार्मिक स्थलों पर ले जाया जाएगा।

मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार इस वर्ष शनिवार से वरिष्ठ नागरिकों के लिए विशेष तीर्थयात्रा कार्यक्रम शुरु करने जा रही है और अगले दो महीनों में लगभग 20 हजार श्रद्धालुओं को विभिन्न धार्मिक स्थलों पर ले जाया जाएगा। एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) डॉ. राजेश राजौरा ने कहा, ‘‘ 21 जनवरी से 29 मार्च तक देश के विभिन्न पवित्र स्थानों की तीर्थयात्रा के लिए वरिष्ठ नागरिकों को ले जाने के लिए मध्य प्रदेश के विभिन्न शहरों से बीस ट्रेनें रवाना होंगी।’’

मुफ्त योजना, ‘‘ मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना’’ पहली बार 2012 में शुरु की गई थी लेकिन कोविड महामारी के दौरान अस्थायी रुप से इसे बंद कर दिया गया था। मध्य प्रदेश के बाद कई राज्यों ने भी इसी तरह की योजनाएं शुरु की हैं। मध्य प्रदेश में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं। राजौरा ने कहा कि योजना के तहत वरिष्ठ नागरिक रामेश्वरम, द्वारका, कामाख्या, शिरडी, जगन्नाथ पुरी, अयोध्या और वाराणसी जा सकेंगे। एक अधिकारी ने कहा कि राज्य के 60 वर्ष से अधिक आयु के गैर-करदाता तथा दो वर्ष की छूट के साथ महिलाएं तीर्थयात्रा कार्यक्रम में लिए पात्र हैं।

सरकार योजना के तहत रेल यात्रा, नाश्ता, भोजन, पीने का पानी, रहने और जहां जरूरी हो बस द्वारा यात्रा की व्यवस्था करती है। 60 प्रतिशत से अधिक विकलांगता वाले दिव्यांग व्यक्तियों के लिए कोई आयु बंधन नहीं है। उन्होंने कहा कि 21 जनवरी से 29 मार्च के बीच कुल 20 हजार श्रद्धालु तीर्थयात्रा पर जायेंगे। अधिकारियों ने कहा कि वर्ष के दौरान इस तरह की और यात्राएं शुरू की जाएंगी। अधिकारी ने कहा, ‘‘ अगर कोई जोड़ा तीर्थयात्रा पर जाना चाहता है और उनमें से एक की उम्र तय मानदंड से कम है तो ऐसे जोड़ों को यात्रा में हिस्सा लेने की इजाजत है।’’ उन्होंने कहा कि 65 वर्ष से अधिक आयु के एकल व्यक्तियों और 60 प्रतिशत से अधिक विकलांगता वाले दिव्यांगों को अपने साथ एक सहायक मुफ्त में ले जाने की अनुमति है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़