सपा-रालोद-बसपा को ‘शराब’ बताने के लिए माफी मांगें प्रधानमंत्री: कांग्रेस

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 28, 2019   14:31
सपा-रालोद-बसपा को ‘शराब’ बताने के लिए माफी मांगें प्रधानमंत्री: कांग्रेस

सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने राजनीतिक पार्टियों की शराब से तुलना कर पूरे देश और प्रजातंत्र का मजाक उड़ाया है।

नयी दिल्ली। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सपा, रालोद एवं बसपा को ‘शराब’ कहकर निशाना साधे जाने को लेकर उन पर देश के लोकतंत्र का मजाक उड़ाने का आरोप लगाया और कहा कि मोदी को देश से माफी मांगनी चाहिए। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री को ‘फ्लॉप फिल्म के फ्लॉप’ अभिनेता की तरह बोलने के बजाय अपने काम का हिसाब देना चाहिए।

सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने राजनीतिक पार्टियों की शराब से तुलना कर पूरे देश और प्रजातंत्र का मजाक उड़ाया है। आप अपने शब्द वापस लीजिए या फिर माफी मांगिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मायावती जी और दूसरे नेताओं से इनका विरोध हो सकता है। लेकिन प्रधानमंत्री ने जिस भाषा में बात की है उससे उन्होंने भारत की संस्कृति को मिट्टी में मिलाने का काम किया है।’’ एक सवाल के जवाब में सुरजेवाला ने कहा, ‘‘ मोदी जी को दिन-रात राहुल गांधी जी और कांग्रेस के सपने आते हैं। प्रपंच, ढोंग और स्वांग के बजाय मुद्दों की बात करें। प्रधानमंत्री जी, आप कांग्रेस को गाली दीजिए लेकिन देश के गरीब का मजाक मत उड़ाइए। आप ‘न्याय’ का मजाक मत बनाइए।’’ 

इसे भी पढ़ें: मिशन शक्ति की कामयाबी पर बोली शिवसेना, मोदी है तो मुमकिन है

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने मेरठ की एक चुनावी सभा में सपा, रालोद और बसपा पर निशाना साधा और इनके गठबंधन को  सराब  बताया। उन्होंने कहा कि सपा का स, रालोद का रा और बसपा का ब से बचें, क्यों ये ‘सराब’ हुआ जो सेहत के लिए हानिकारक है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।