PM Modi Nepal Visit: बुद्ध की धरती से पीएम मोदी का संदेश, पंचशील के सिद्धांतों के साथ शांति के दुश्मनों के लिए चेतावनी भी होगी

PM Modi Nepal Visit: बुद्ध की धरती से पीएम मोदी का संदेश, पंचशील के सिद्धांतों के साथ शांति के दुश्मनों के लिए चेतावनी भी होगी
ANI

पीएण मोदी इस महीने की 16 तारीख को गौतम बुद्ध की जयंती के मौके पर उनके जन्मस्थान यानी नेपाल के शहर लुम्बनी जाएंगे। जहां वो गौतम बुद्ध से जुड़े कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।लुम्बिनी को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है।

भारत और चीन के बीच राजनीति में शह और मात का अखाड़ा बन चुके नेपाल में पीएम मोदी ड्रैगन को बड़ा संदेश देने जा रहे हैं। जिसकी चर्चा पूरे नेपाल में है। नेपाली पीएम शेर बहादुर देउबा के भारत दौरे के बाद भारत के प्रधानमंत्री मोदी के नेपाल आगमन को लेकर नेपाल में उत्साह है। दरअसल, मोदी इस महीने की 16 तारीख को गौतम बुद्ध की जयंती के मौके पर उनके जन्मस्थान यानी नेपाल के शहर लुम्बनी जाएंगे। जहां वो गौतम बुद्ध से जुड़े कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।लुम्बिनी को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है। 

इसे भी पढ़ें: नेपाल ने 200 मेगावाट अतिरिक्त बिजली की बिक्री के लिए भारतीय कंपनियों से प्रस्ताव मांगा

बुद्ध की धरती पर भारतीय पीएम का आगमन बुद्ध पूर्णिमा के दिन हो रहा है तो जाहिर है मोदी के संबोधन में बुद्ध के पंचशील के सिद्धांत की व्याख्या होगी ही और शांति के दुश्मनों को चेतावनी भी होगी। इसके साथ ही चर्चा है कि लुम्बिनी से नेपाल को शिक्षा, स्वास्थ्य औक पर्यटन की बड़ी सौगात की घोषणा भी की जा सकती है। 2014 के बाद से प्रधान मंत्री की यह पांचवीन नेपाल यात्रा होगी। मंत्रलय के एक बयान के अनुसार, पीम मोडी लुम्बिनी में पवित्र मायादेवी मंदिर में पूजा-अर्चना करने जाएंगे। वह नेपाल सरकार के तत्वावधान में लुम्बिनी देवलापमेंट ट्रस्ट द्वारा आयोजित बुद्ध जयंती कार्यक्रम को भी सम्बोधित करेंगे। गौरतलब है कि 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद पीएम मोदी नेपाल का पांचवां दौरा करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: क्या चीन की राजदूत के साथ नाइटक्लब में थे राहुल? क्यों कांग्रेस का चाइनीज कनेक्शन छिपाए नहीं छिपता

लेकिन मोदी के इस एक दिन के दौरे में ही भारत सरकार ने एक ऐसा फैसला कर लिया है। जिससे नेपाल में चीन को एक बड़ा झटका लग जाएगा। दरअसल, पिछले कुछ सालों से चीन के जाल में फंस चुके नेपाल में बड़े बौद्ध स्थल लुम्बिनी के गेटवे के तौर पर चीन ने भैरवा में गौतम बुद्ध इंटरनेशनल एयरपोर्ट तैयार किया है। ये करीब चालीस अरब नेपाली रूपये की लागत से बना है। एयरपोर्ट नेपाल में चीन के प्रभाव की निशानी है। इसका उद्घाटन भी ठीक उसी दिन यानी 16 मई को होगा जिस दिन मोदी नेपाल की यात्रा पर होंगे। ये नेपाल का दूसरा इंटरनेशनल एयरपोर्ट है। उम्मीद जताई जा रही थी कि उद्घाटन वाले दिन पीएम मोदी यहां उतरकर वहां से लुम्बिनी जाते तो इस इंटरनेशनल एयरपोर्ट की बड़ी वैश्विक मार्केटिंग हो जाती। लेकिन मोदी ऐसा नहीं करेंगे। लेकिन पीएम मोदी ऐसा नहीं करेंगे। जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी भारत के कुशीनगर से हेलीकॉप्टर के जरिये सीधे लुम्बिनी पहुंचेंगे। इसके लिए लुम्बिनी में हवाई पट्टी भी तैयार करवाई जा रही है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।