मालदीव के राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद बोले PM मोदी, हमारा सहयोग एक व्यापक भागीदारी का रूप लेता जा रहा

PM Modi
@BJP
अभिनय आकाश । Aug 02, 2022 1:33PM
पीएम मोदी ने कहा कि हमने आज ग्रेटर माले में 4000 सोशल हाउसिंग यूनिट्स के निर्माण के प्रोजेक्ट्स का रिव्यु भी किया। हम इसके अतिरिक्त 2000 सोशल हाउसिंग यूनिट्स के लिए भी वित्तीय सहायता देंगे। हमने 100 मिलियन डॉलर की अतिरिक्त लाइन ऑफ क्रेडिट देने का निर्णय भी किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोलिह के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में भारत और मालदीव की मित्रता में नया जोश आया है, हमारी नजदीकियां बढ़ीं हैं। महामारी से पैदा हुई चुनौतियों के बावजूद हमारा सहयोग एक व्यापक भागीदारी का रूप लेता जा रहा है। हमने आज ग्रेटर माले में 4000 सोशल हाउसिंग यूनिट्स के निर्माण के प्रोजेक्ट्स का रिव्यु भी किया। हम इसके अतिरिक्त 2000 सोशल हाउसिंग यूनिट्स के लिए भी वित्तीय सहायता देंगे। हमने 100 मिलियन डॉलर की अतिरिक्त लाइन ऑफ क्रेडिट देने का निर्णय भी किया है।

इसे भी पढ़ें: मोदी सरकार ने भगवान और गाय को छोड़ सभी कुछ पर GST लगा दिया, सुप्रिया सुले ने महंगाई पर चर्चा करते हुए सदन में पढ़ी मराठी कविता

पीएम मोदी ने कहा कि इंडियन ओसियन में ट्रांस-नेशनल अपराध, आतंकवाद तथा ड्रग्स तस्करी का खतरा गंभीर है। इसलिए, रक्षा और सुरक्षा के क्षेत्र में भारत और मालदीव के बीच करीबी संपर्क और समन्वय पूरे क्षेत्र की शांति और स्थिरता के लिए महत्वपूर्ण हैं। आज भारत-मालदीव पार्टनरशिप न सिर्फ दोनों देशों के नागरिकों के हित में काम कर रही है, बल्कि क्षेत्र के लिए भी शांति, स्थिरता और समृद्धि का स्रोत बन रही है। मालदीव की किसी भी जरूरत या संकट में भारत पहला प्रतिसादकर्ता रहा है और आगे भी रहेगा। पीएम मोदी ने कहा कि द महासागर में ट्रांस-नेशनल अपराध, आतंकवाद तथा ड्रग्स तस्करी का खतरा गंभीर है और इसलिए रक्षा और सुरक्षा के क्षेत्र में भारत और मालदीव के बीच करीबी संपर्क और समन्वय पूरे क्षेत्र की शांति और स्थिरता के लिए महत्वपूर्ण है। 

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट की ‘डिस्प्ले’ तस्वीर पर तिरंगा लगाया

हैदराबाद हाउस में सुयंक्तु प्रेस वक्तव्य के दौरान मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने कहा कि मालदीव-भारत संबंध कूटनीति से परे हैं। यह यात्रा दोनों देशों के बीच घनिष्ठ संबंध की पुष्टि है।  

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़