PM मोदी ने फिलीपींस के राष्ट्रपति के साथ की फोन पर बात, परियोजनाओं में भारत के पूर्ण समर्थन का दिया आश्वासन

PM Modi
creative common
अभिनय आकाश । Aug 05, 2022 5:30PM
प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार पीएम मोदी ने राष्ट्रपति फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर के साथ टेलीफोन पर बातचीत के दौरान भारत की एक्ट ईस्ट पॉलिसी और इंडो-पैसिफिक विजन में फिलीपींस की महत्वपूर्ण भूमिका को दोहराया और द्विपक्षीय संबंधों को और विस्तारित करने की इच्छा व्यक्त की।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज फिलीपींस के राष्ट्रपति फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर से फोन पर बात की। दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय जुड़ाव के विभिन्न क्षेत्रों की समीक्षा की और भारत और फिलीपींस के बीच सहयोग के तेजी से विकास पर संतोष व्यक्त किया। प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार पीएम मोदी ने राष्ट्रपति फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर के साथ टेलीफोन पर बातचीत के दौरान भारत की एक्ट ईस्ट पॉलिसी और इंडो-पैसिफिक विजन में फिलीपींस की महत्वपूर्ण भूमिका को दोहराया और द्विपक्षीय संबंधों को और विस्तारित करने की इच्छा व्यक्त की। 

इसे भी पढ़ें: काले कपड़ों में संसद से लेकर राष्ट्रपति भवन तक कांग्रेस का प्रदर्शन, सरकार के खिलाफ जमकर लगे नारे

पीएम नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर को फिलीपींस के विकास के लिए उनकी योजनाओं और परियोजनाओं में भारत के पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया। पीएम नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर को फिलीपींस के विकास के लिए उनकी योजनाओं और परियोजनाओं में भारत के पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया।  

इसे भी पढ़ें: 'देश में बस नाम का है लोकतंत्र', अशोक गहलोत बोले- भाजपा जब विपक्ष में थी तो कई रैलियां हुईं, तब नहीं लगी कोई रोक

बता दें कि फिलीपीन को तानाशाही हुकूमत से आजादी दिलाने वाले एवं 1986 के लोकतंत्र समर्थक आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाले देश के पूर्व राष्ट्रपति फिदेल वाल्देज रामोस का रविवार को निधन हो गया। वह 94 साल के थे। अमेरिका में प्रशिक्षित पूर्व सैन्य जनरल रामोस ने कोरिया और वियतनाम युद्ध में भी हिस्सा लिया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक वह कोरोना संक्रमण से पीड़ित थे, जिसके चलते मकाती मेडिकल सेंटर में उनका इलाज चल रहा था, जहां उनकी मृत्यु हो गई। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़