UP के लिए PM मोदी का आत्मनिर्भर मंत्र, 1.25 करोड़ लोगों को रोजगारी की 'गारंटी' वाली खुशखबरी

UP के लिए PM मोदी का आत्मनिर्भर मंत्र, 1.25 करोड़ लोगों को रोजगारी की 'गारंटी' वाली खुशखबरी

पीएम मोदी ने यूपी में लॉन्च किया आत्मनिर्भर अभियान। करीब 30 लाख प्रवासी कामगार वापस लौटकर आए हैं। उत्तर प्रदेश के 31 जिलों में वापस लौटने वाले श्रमिकों-कामगारों की संख्या 25,000 से अधिक रही।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में पीएम मोदी ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए इस अभियान की शुरुआत की। इस वर्चुअल लॉन्चिंग के मौके पर राज्य सरकार के संबंधित विभागों के मंत्री भी मौजूद रहे। अभियान की शुरुआत में सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने अभियान के बारे में बताते हुए कहा कि हमने प्रदेश में जितने भी प्रवासी श्रमिक आए हैं, 18 साल से कम बच्चों को छोड़कर लगभग 30 लाख मजदूरों की स्किल मैपिंग की है। इससे इन मजदूरों को काम देने में आसानी मिलेगी। इस अभियान को लॉन्च करने के दौरान पीएम मोदी ने कई मजदूरों के साथ संवाद किया। 

इसे भी पढ़ें: आगरा जिला प्रशासन ने पत्र लिखकर प्रियंका के ट्वीट पर जताई नाराजगी, कांग्रेस ने कहा- नहीं मिला पत्र

30 प्रवासियों को यूपी में लाया गया वापस

राज्य में करीब 30 लाख प्रवासी कामगार वापस लौटकर आए हैं। उत्तर प्रदेश के 31 जिलों में वापस लौटने वाले श्रमिकों-कामगारों की संख्या 25,000 से अधिक रही। इनमें 5 तेजी से उभरते हुए जिले भी शामिल हैं। योजना के तहत 1.25 करोड़ लोगों को रोजगार देने का लक्ष्य। 25 अलग-अलग क्षेत्रों में दिए जाएंगे रोजगार। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता रामगोविंद चौधरी कोरोना संक्रमित

अभियान का लक्ष्य

  • घरेलु स्तर पर उद्योगों को बढ़ावा देना।
  • घर लौटे प्रवासियों को रोजगार देना।
  • औद्योगिक संगठनों को एकसाथ जोड़ना।
  • गांवों में रोजगार को बढ़ाना।
  • हर जिले को किसी खास समान के लिए उत्पाद के लिए विकसित करना।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी ने UP और बिहार में बिजली गिरने से लोगों की मौत पर जताया दुख, कहा- राज्य सरकारें राहत कार्यों में जुटी हैं

 आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान क्या है?

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने मोदी सरकार की योजना की तर्ज पर ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ के रूप में एक अनूठी पहल की, जिसमें राज्य सरकार के साथ ही उद्योग जगत और अन्य संस्थाओं की भी भागीदारी है। इस अभियान का मुख्य लक्ष्य रोजगार प्रदान करना, स्थानीय स्तर पर उद्यमिता को बढ़ावा देना और रोजगार के अवसर की उपब्धता के लिए औद्योगिक संगठनों और अन्य संस्थानों को एक साथ जोड़ना है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।