सिंगापुर के पीएम ने मोदी को दिया भरोसा, कहा- अपने नागरिकों की तरह रखेंगे भारतीय प्रवासियों का ध्यान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 24, 2020   09:56
सिंगापुर के पीएम ने मोदी को दिया भरोसा, कहा- अपने नागरिकों की तरह रखेंगे भारतीय प्रवासियों का ध्यान

मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री ली सीन लूंग से कोविड-19 महामारी पर विचारों का आदान-प्रदान किया और सिंगापुर में भारतीय नागरिकों की मदद और देखभाल के लिए उनका आभार जताया।’’ ली ने मार्च के अंत में 1.3 अरब लोगों के विशाल देश में लॉकडाउन लागू किए जाने को असाधारण निर्णय’’ बताया।

सिंगापुर। सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सीन लूंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आश्वासन दिया है कि सिंगापुर में काम करने वाले भारतीय नागरिकों का कोरोना वायरस महामारी के दौरान देश के अपने नागरिकों की तरह ही ध्यान रखा जाएगा। ली ने बृहस्पतिवार को एक फेसबुक पोस्ट में कहा कि उन्होंने सिंगापुर और भारत में कोविड-19 की स्थिति के बारे में मोदी के साथ टेलीफोन पर बातचीत की।

इसे भी पढ़ें: कोविड-19 पर ऑनलाइन प्रशिक्षण पाठ्यक्रम में 1.83 लाख से ज्यादा लोगों ने पंजीकरण कराया: जितेंद्र सिंह

ली ने कहा कि बातचीत के दौरान उन्होंने सिंगापुर में काम करने वाले प्रवासी श्रमिकों के बलिदान को स्वीकार किया। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने उन्हें (मोदी को) आश्वासन दिया कि हम यहां भारतीय प्रवासी श्रमिकों की देखभाल उसी तरह करेंगे, जैसे हम सिंगापुर के लोगों की देखभाल करते हैं। प्रवासी श्रमिकों ने यहां काम करने के लिए व्यक्तिगत बलिदान दिए हैं। उन्होंने सिंगापुर के लिए कई योगदान दिए हैं, इसलिए उनके प्रति हमारी भी जिम्मेदारी बनती है।’’

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस का बड़ा आरोप, पालघर हिंसा में शामिल दो आरोपी बीजेपी के सदस्य

उन्होंने भारत में फंसे सिंगापुर के नागरिकों की वापसी में भारत की मदद के लिए मोदी को धन्यवाद दिया। अप्रैल के शुरू में सिंगापुर अपने 699 नागरिकों को वापस ले गया था जो लॉकडाउन के कारण यहां फंस गए थे। ली से बातचीत करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत और सिंगापुर के बीच रणनीतिक साझेदारी कोविड-19 से उबरने के बाद स्थिरता और समृद्धि में योगदान दे सकती है।

इसे भी पढ़ें: भारत ने पाकिस्तान द्वारा आयोजित सार्क की वर्चुअल कॉन्फ्रेंस में लिया हिस्सा

मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री ली सीन लूंग से कोविड-19 महामारी पर विचारों का आदान-प्रदान किया और सिंगापुर में भारतीय नागरिकों की मदद और देखभाल के लिए उनका आभार जताया।’’ ली ने मार्च के अंत में 1.3 अरब लोगों के विशाल देश में लॉकडाउन लागू किए जाने को असाधारण निर्णय’’ बताया। उन्होंने कहा कि भारत और सिंगापुर व्यापक आर्थिक संबंधों के साथ रणनीतिक साझेदार हैं। ली ने पोस्ट में कहा, हम महामारी के कारण उत्पन्न चुनौतियों पर एक साथ काम करने और आपूर्ति श्रृंखला को बरकरार रखने के लिए सहमत हुए।’’ दोनों नेताओं ने सिंगापुर और भारत के व्यापक आर्थिक संबंधों पर भी चर्चा की। सिंगापुर में भारत के उच्चायोग ने ‘‘द स्ट्रेट्स टाइम्स’’ को बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना वायरस पर विभिन्न विश्व नेताओं के साथ बातचीत के तहत सिंगापुर में अपने समकक्ष को फोन किया। एक रिपोर्ट के अनुसार 19 अप्रैल तक सिंगापुर में 1,600 से अधिक भारतीय नागरिक कोरोना वायरस से संक्रमित थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...