‘लीडआईटी’ जलवायु पहल में शामिल होने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत: पीएमओ

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 24, 2021   14:29
‘लीडआईटी’ जलवायु पहल में शामिल होने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत: पीएमओ

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने शनिवार को भारत-स्वीडन जलवायु पहल में शामिल होने के अमेरिका के निर्णय का स्वागत किया और कहा कि इससे पेरिस समझौते के लक्ष्यों को हासिल करने में मदद मिलेगी।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने शनिवार को भारत-स्वीडन जलवायु पहल में शामिल होने के अमेरिका के निर्णय का स्वागत किया और कहा कि इससे पेरिस समझौते के लक्ष्यों को हासिल करने में मदद मिलेगी। भारत-स्वीडन जलवायु पहल औद्योगिक परिवर्तन के लिए नेतृत्व (लीडआईटी) करने वाले देशों का समूह है। जलवायु परिवर्तन पर अमेरिका की ओर से आयोजित डिजिटल शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा था कि जलवायु और ऊर्जा संबंधी लक्ष्यों को हासिल करने के लिए वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ काम करने को उत्सुक हैं।

इसे भी पढ़ें: कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो ने ओटावा में लगवाया कोविड-19 का टीका

उन्होंने कहा था कि यह दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों का मजबूत आधार बनेगा। इसके बाद पीएमओ ने ट्वीट कर कहा, ‘‘भारत-स्वीडन जलवायु पहल लीडआईटी में शामिल होने पर अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत है। इससे हमें पेरिस समझौते के लक्ष्यों को प्राप्त करने, प्रतिस्पर्द्धा बढ़ाने तथा रोजगार के नए अवसर पैदा करने में मदद मिलेगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।