भाजपा शासित राज्यों की पुलिस नंदीग्राम के मतदाताओं को भयभीत कर रही हैं: ममता बनर्जी

Mamta Banerjee
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि भाजपा शासित राज्यों के पुलिस बल नंदीग्राम विधानसभा सीट के मतदाताओं को भयभीत कर रहे हैं।

नंदीग्राम। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि भाजपा शासित राज्यों के पुलिस बल नंदीग्राम विधानसभा सीट के मतदाताओं को भयभीत कर रहे हैं। इस सीट पर ममता के खिलाफ उनके पूर्व साथी शुभेंदु अधिकारी भाजपा उम्मीदवार के तौर पर चुनाव मैदान में हैं। भंगाबेरा से रोडशो शुरू करने से पहले बनर्जी ने सोनाचुरा में जनसभा में कहा कि गांवों में मतदाताओं को भयभीत करने और भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने के लिये मध्य प्रदेश के पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। बहरहाल, उन्होंने कहा कि वह नंदीग्राम सीट से अपनी जीत को लेकर आश्वस्त हैं। साथ ही उनकी पार्टी लगातार तीसरी बार सत्ता में आएगी।

इसे भी पढ़ें: तमिलनाडु पेट्रोप्रोडक्ट्स क्षमता विस्तार के लिए 435 करोड़ रुपये निवेश करेगी

अधिकारी पर तीखा हमला बोलते हुए उन्होंने कहा, वे (बाहर से लाए गए पुलिसकर्मी) यहां कुछ दिन रहेंगे। कोई गलती न करें। हम वापस आएंगे और दगाबाजों को करारा जवाब देंगे। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को बाहरी पुलिसकर्मियों के कथित अनुचित कृत्यों से अवगत कराया जा रहा है। बनर्जी ने लोगों से अपील की कि वे एक अप्रैल को होने वाले चुनाव से पहले नंदीग्राम में सांप्रदायिक दंगे भड़काने की किसी भी कोशिश के खिलाफ सावधान रहें।

इसे भी पढ़ें: पेंशन समीक्षा की मांग को लेकर नाबार्ड के कर्मचारियों की हड़ताल

उन्होंने भगवा पार्टी का नाम लिये बिना कहा, उनकी (भाजपा की) अपने ही लोगों को मरवाने और इसे हमारी हरकत बताकर दंगे कराने की योजनाहै। हमें जानकारी मिली है। सावधान रहिये। इसके बाद टीएमसी प्रमुख बनर्जी ने तीन किलोमीटर के रोडशो में हिस्सा लिया, जो नंदीग्राम की संकरी सड़कों से होकर गुजरा। इस दौरान टीएमसी समर्थकों ने जय हिंद,जय बांग्ला, ममता बनर्जी जिंदाबाद और मीर जाफर (दगाबाज) मुर्दाबाद के नारे लगाए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़