भारत में जनसंख्या नियंत्रण को नहीं दी जाती प्राथमिकता: उपराष्ट्रपति

Population control lacks priority in India: Vice prez
उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि भारत में जनसंख्या नियंत्रण को प्राथमिकता नहीं दी जाती है। इस मुद्दे को धर्म से जोड़ने की प्रवृत्ति पर भी उन्होंने निराशा जताई।

हैदराबाद। उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि भारत में जनसंख्या नियंत्रण को प्राथमिकता नहीं दी जाती है। इस मुद्दे को धर्म से जोड़ने की प्रवृत्ति पर भी उन्होंने निराशा जताई। स्वर्ण भारत ट्रस्ट की हैदराबाद शाखा में चिकित्सा शिविर और दो कौशल विकास केंद्रों का उद्घाटन करते वक्त उन्होंने यह टिप्पणी की।

उपराष्ट्रपति ने कहा, देश में आबादी पर नियंत्रण की जरूरत पर अब ध्यान नहीं रह गया है। देश की आबादी लगभग 130 करोड़ है...हम जनसंख्या नियंत्रण के पहलू को भूल गए हैं... सियासी दल भी इस बारे में बात करने से डरते हैं, उन्हें लगता है कि जनता क्या सोचेगी। उन्होंने कहा, ‘‘ दुर्भाग्य से कुछ लोग इसे धर्म से जोड़ रहे हैं। हालांकि यह इससे संबंधित नहीं है। शासकों ने इसे प्राथमिकता नहीं बनाया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़