अवनीश अवस्थी की योगी सरकार में हुई पावरफुल वापसी, बनाए गए सीएम के प्रशासनिक सलाहकार

Awanish Awasthi
ANI
अंकित सिंह । Sep 17, 2022 12:56PM
अवनीश अवस्थी 1987 बैच के आईएएस अफसर हैं। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के साथ ही वह केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से वापस राज्य में लौटे थे। रिटायरमेंट से पहले अवनीश अवस्थी के पास अपर मुख्य सचिव गृह, गोपन, पासपोर्ट, धर्मार्थ कार्य के साथ ही यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी की भी जिम्मेदारी थी।

उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर सुर्खियों में रहने वाले आईएएस अफसर अवनीश अवस्थी एक बार फिर से योगी सरकार में धमाकेदार वापसी कर रहे हैं। इस बार भी अवनीश कुमार अवस्थी उत्तर प्रदेश सरकार में पावरफुल पोजीशन पर रहेंगे। अवनीश अवस्थी को योगी आदित्यनाथ का प्रशासनिक सलाहकार बनाया गया है। इसको लेकर नियुक्ति के आदेश भी जारी कर दिए गए हैं। दरअसल, अवनीश अवस्थी उत्तर प्रदेश के तेजतर्रार अफसरों में आते हैं। वह पिछले महीने 31 अगस्त को रिटायर हुए थे। हालांकि, उनके सेवा विस्तार को लेकर लगातार चर्चाएं चल रही थी। लेकिन केंद्र की ओर से मंजूरी नहीं मिली। उसके बाद अपर मुख्य सचिव गृह की जिम्मेदारी संजय प्रसाद को सौंपी गई।

इसे भी पढ़ें: यूपी के छोटे से जिले से एक ही परिवार के चार बच्चे बने आईएएस, आया रिकार्ड बुक में नाम

हालांकि, तभी से माना जा रहा था कि योगी सरकार में अवनीश अवस्थी की वापसी किसी भी रूप में जरूर होगी। इसी कड़ी में प्रशासनिक कार्यों में सलाह देने के लिए 28 फरवरी 2023 तक के लिए अवनीश अवस्थी को मुख्यमंत्री के सलाहकार की जिम्मेदारी दी गई है। इस दौरान अवनीश अवस्थी को अस्थाई सरकारी सेवक मारा जाएगा। अवनीश अवस्थी को योगी आदित्यनाथ का बेहद करीबी अफसर माना जाता है। अवनीश अवस्थी जब गोरखपुर के डीएम थे, तभी से योगी के साथ उनके रिश्ते काफी सहज रहे हैं। उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति को सुधारने में अवनीश अवस्थी की भूमिका काफी सराहनीय रही है। जिस योगी मॉडल की चर्चा आज देश के अन्य हिस्सों में होती है, उसमें भी अवनीश अवस्थी की भूमिका काफी प्रशंसनीय रही है।

इसे भी पढ़ें: योगी को छोड़कर केशव प्रसाद मौर्य को लगातार निशाना क्यों बना रहे हैं अखिलेश यादव?

अवनीश अवस्थी 1987 बैच के आईएएस अफसर हैं। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के साथ ही वह केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से वापस राज्य में लौटे थे। रिटायरमेंट से पहले अवनीश अवस्थी के पास अपर मुख्य सचिव गृह, गोपन, पासपोर्ट, धर्मार्थ कार्य के साथ ही यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी की भी जिम्मेदारी थी। इतना ही नहीं, अवनीश अवस्थी की देखरेख में पूर्वांचल एक्सप्रेसवे और बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का निर्माण हुआ है। कुछ दिनों तक अवनीश कुमार अवस्थी के पास ऊर्जा विभाग की भी जिम्मेदारी रही है। माना जा रहा है कि अपनी अवस्थी अब सीधे तौर पर योगी आदित्यनाथ के सलाहकार की भूमिका में होंगे। ऐसे में उनकी नजर सभी विभागों पर रहेगी। 

अन्य न्यूज़