Prabhasakshi's Newsroom । पंजाब में BSF के अधिकार को लेकर विवाद । पूर्व PM से मिले स्वास्थ्य मंत्री

Prabhasakshi's Newsroom । पंजाब में BSF के अधिकार को लेकर विवाद । पूर्व PM से मिले स्वास्थ्य मंत्री

गृह मंत्रालय ने बीएसएफ को पंजाब, पश्चिम बंगाल और असम में अंतरराष्ट्रीय सीमा से मौजूदा 15 किमी की जगह 50 किमी के बड़े क्षेत्र में तलाशी लेने, जब्ती करने और गिरफ्तार करने की शक्ति दे दी है। वहीं, पाकिस्तान की सीमा से लगते गुजरात के क्षेत्रों में यह दायरा 80 किमी से घटाकर 50 किमी कर दिया गया है।

एक फिर से पंजाब में घमासान तेज हो गया। इस बार मुद्दा गृह मंत्रालय ने दे दिया। जिसके बाद कांग्रेसी आपस में भिड़ गए। मौजूदा मुख्यमंत्री और पूर्व मुख्यमंत्री अलग-अलग राय रखते हैं। बात पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के स्वास्थ्य की करेंगे। वो एम्स में भर्ती हैं और अंत में बात होगी कोरोना वायरस महामारी की... 

इसे भी पढ़ें: पूर्व विधायक हर्षवर्धन पाटिल बोले- भाजपा में चैन की नींद सो रहा हूं क्योंकि कोई पूछताछ नहीं हो रही 

BSF के अधिकार क्षेत्र को लेकर बखेड़ा

एक बार फिर से पंजाब सुर्खियों में है। इस बार मामला बीएसएफ से जुड़ा हुआ है। दरअसल, गृह मंत्रालय ने पंजाब में BSF का अधिकार क्षेत्र बढ़ा दिया। जिसके बाद मौजूदा मुख्यमंत्री और पूर्व मुख्यमंत्री आमने सामने आ गए। इस बार भी लड़ाई कांग्रेस बनाम कांग्रेस की है। दरअसल, मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने गृह मंत्रालय के फैसले का विरोध किया। जबकि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने फैसले का समर्थन किया।

आपको बता दें कि गृह मंत्रालय ने बीएसएफ को पंजाब, पश्चिम बंगाल और असम में अंतरराष्ट्रीय सीमा से मौजूदा 15 किमी की जगह 50 किमी के बड़े क्षेत्र में तलाशी लेने, जब्ती करने और गिरफ्तार करने की शक्ति दे दी है। वहीं, पाकिस्तान की सीमा से लगते गुजरात के क्षेत्रों में यह दायरा 80 किमी से घटाकर 50 किमी कर दिया गया है तथा राजस्थान में 50 किलोमीटर तक की क्षेत्र सीमा में कोई बदलाव नहीं किया गया है। 

इसे भी पढ़ें: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों को दुर्गा पूजा और दशहरा पर्व की शुभकामनाएं दी 

मनमोहन सिंह की हालत स्थिर

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की बुधवार को अचानक तबीयत बिगड़ गई जिसके बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया। वहीं गुरुवार तड़के स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया एम्स पहुंचे। जहां पर उन्होंने मनमोहन सिंह के स्वास्थ्य की जानकारी ली। कांग्रेस सूत्र ने बताया, ‘‘दो दिन पहले उन्हें बुखार आया था। बुखार उतरने के बाद वह कमजोरी महसूस कर रहे थे। जिसके बाद चिकित्सकों की सलाह पर उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया। उन्हें चिकित्सकों की देखरेख में रखा गया है और चिंता की कोई बात नहीं है।’’

वहीं, कांग्रेस के मीडिया विभाग के सह-प्रभारी प्रणव झा ने बताया कि, ‘‘पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी के स्वास्थ्य के संदर्भ में कुछ अफवाहें चल रही हैं जो आधारहीन हैं। उनकी हालत स्थिर है। उनका नियमित उपचार हो रहा है। जरूरत पड़ने पर हमें नयी सूचनाएं साझा करेंगे। चिंता के लिए मीडिया के अपने साथियों का धन्यवाद करता हूं। 

इसे भी पढ़ें: धर्म परिवर्तन कर किया शादी के लिए मजबूर, नहीं मानी लड़की तो अश्लील वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर किया पोस्ट 

कोरोना के फिर बढ़े मामले

त्योहारी सीजन में एक बार फिर से कोरोना अपने पैर पसारने लगा है। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 18,987 नए मामले सामने आए। जिसके बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3 करोड़ 40 लाख 20 हजार 730 हो गई। वहीं, मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर बढ़कर 98.07 प्रतिशत हो गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक संक्रमण से 246 और लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। जिसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 4 लाख 51 हजार 435 हो गई। देश में लगातार 20 दिनों से कोविड-19 के दैनिक मामले 30 हजार से कम और 109 दिन से 50 हजार से कम सामने आ रहे हैं। वहीं एक्टिव मामलों की संख्या कम होकर 2 लाख के आस-पास रह गई है। जो कुल मामलों का 0.61 प्रतिशत है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...