प्रतिभा सिंह ने कहा- राहुल और प्रियंका कांग्रेस को पर्याप्त समय नहीं देते

Rahul Gandhi and Priyanka Gandhi
प्रतिरूप फोटो
ANI
ऑनलाइन साझा किए गए एक वीडियो के मुताबिक, कांग्रेस की हिमाचल प्रदेश इकाई की अध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने कहा है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाद्रा कांग्रेस पार्टी और उसके नेताओं को पर्याप्त समय व महत्व नहीं देते हैं।

ऑनलाइन साझा किए गए एक वीडियो के मुताबिक, कांग्रेस की हिमाचल प्रदेश इकाई की अध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने कहा है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाद्रा कांग्रेस पार्टी और उसके नेताओं को पर्याप्त समय व महत्व नहीं देते हैं। सिंह ने ‘द प्रिंट’ को दिए साक्षात्कार में कहा, ‘‘मुझे लगता है कि थोड़ा पीढ़ीगत अंतराल है। जो हमारे वरिष्ठ किया करते थे, अब युवा वो नहीं करते। जो सोनिया जी, इंदिरा जी या राजीव जी करते थे, आज की पीढ़ी वह नहीं करती।’’

हालांकि, बाद में सिंह ने दावा किया कि उन्हें गलत तरीके से उद्धृत किया गया। उन्होंने वेबसाइट से साक्षात्कार को वापस लेने का आग्रह किया है। सिंह ने ट्वीट किया, ‘‘द प्रिंट द्वारा प्रकाशित एक साक्षात्कार में मेरे बयानों को गलत तरीके से उद्धृत किया गया है। मैंने कभी भी कांग्रेस नेतृत्व और गांधी परिवार को अपमानित करने वाला कोई बयान नहीं दिया। साक्षात्कारकर्ता ने मेरे बयानों के साथ छेड़छाड़ कर पूरे साक्षात्कार में गलत तरीके से उद्धृत किया है।’’

मंडी से सांसद सिंह ने बाद में एक वीडियो संदेश में यह भी कहा कि राहुल और प्रियंका गांधी उनके बच्चों की तरह हैं और उन्होंने (सिंह) उन्हें (राहुल-प्रियंका) जो भी सलाह दी, उसे गलत नहीं समझा जाना चाहिए। ऑनलाइन पोस्ट की गई एक वीडियो में, सिंह को यह कहते हुए सुना जा सकता है, ‘‘मुझे यह कहते हुए खेद हो रहा है कि राहुल जी या प्रियंका जी (पार्टी को) उतना समय नहीं देते हैं, और इसलिए लोग निराश महसूस करते हैं। और वे पार्टी नेताओं को भी उतना महत्व नहीं देते।’’

सिंह ने वीडियो में कहा, ‘‘कई लोग हैं जो पार्टी छोड़ चुके हैं। और आप जानते हैं कि (गुलाम नबी) आजाद जी ने इतने लंबे समय तक देश की सेवा करने के बाद क्या किया। उन्होंने एक खुला साक्षात्कार दिया और कहा कि उनकी बात नहीं सुनी जा रही थी और (पार्टी आलाकमान से बात करने का मौका पाने के लिए) वे कई महीनों तक इंतजार करते रहे।’’

हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत वीरभद्र सिंह की पत्नी प्रतिभा ने कहा, ‘‘अब राहुल जी का संसद में तीसरा कार्यकाल है। इसलिए मुझे लगता है कि उन्हें सीखना चाहिए। मैं यह नहीं कह रही हूं कि मैं उन्हें सलाह दे रही हूं। पार्टी के हित में, मैं कह रही हूं कि अगर आपको लगता है कि लोग आपसे निराश हैं तो काम करें, फिर उन्हें कुछ समय दें, उनकी शिकायतें सुनें। कुछ सीखने की कोशिश करें। तब शायद पार्टी में ऐसी स्थिति न हो।’’

हालांकि, बाद में उन्होंने वेबसाइट से साक्षात्कार हटाने और माफी जारी करने के लिए कहा। कांग्रेस नेता ने अपने वीडियो बयान में कहा, ‘‘जहां तक राहुल गांधी, प्रियंका का सवाल है, एक बुजुर्ग व्यक्ति के रूप में, मुझे हमेशा लगता है कि वे मेरे लिए बच्चों की तरह हैं। अगर मैं अपने बच्चों को सलाह देती हूं या अगर मैं अपने बच्चों को कुछ कहती हूं, मैं उन्हें उसी तरह बताऊंगी। इसे गलत नहीं समझा जाना चाहिए और इसका कोई अलग अर्थ नहीं निकालना चाहिए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़