भारी बारिश के कारण राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का गुमला और देवघर का कार्यक्रम रद्द

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 29, 2019   12:40
भारी बारिश के कारण राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का गुमला और देवघर का कार्यक्रम रद्द

इससे पूर्व कल शाम राष्ट्रपति तीन दिवसीय दौरे पर झारखंड पहुंचे जहां राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू और मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बिरसा मुंडा हवाई अड्डे पर उनका स्वागत किया। राष्ट्रपति हवाई अड्डे से राजभवन पहुंचे और वहांउन्होंने रात्रि विश्राम किया।

रांची, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की झारखंड़ की तीन दिवसीय यात्रा के आज रविवार को दूसरे दिन गुमला और देवघर के सभी कार्यक्रम भारी बारिश के कारण रद्द कर दिये गये हैं। राजभवन के प्रवक्ता ने इस बात की पुष्टि की साथ ही राष्ट्रपति भवन ने संदेश जारी कर यह जानकारी दी। राजभवन के प्रवक्ता ने बताया कि भारी बारिश के चलते गुमला में अशोक भगत जी के आदिवासी आश्रम और देवघर में राष्ट्रपति के हेलीकाप्टर उतरने में तकनीकी कठिनाई के चलते ही राष्ट्रपति का आज का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है। इससे पूर्व कल शाम राष्ट्रपति तीन दिवसीय दौरे पर झारखंड पहुंचे जहां राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू और मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बिरसा मुंडा हवाई अड्डे पर उनका स्वागत किया। राष्ट्रपति हवाई अड्डे से राजभवन पहुंचे और वहांउन्होंने रात्रि विश्राम किया।

इसे भी पढ़ें: राष्ट्रपति कोविंद ने आर्मी एयर डिफेंस कोर को सर्वोच्च सैन्य सम्मान ‘प्रेजिडेंट्स कलर्स’ से नवाजा 

राष्ट्रपति 30 सितम्बर को रांची विश्वविद्यालय मेंदीक्षांत समारोह में शामिल होंगे। इसके बाद वह दिल्लीरवाना हो जायेंगे। राष्ट्रपति का स्वागत करते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा की पावन धरती झारखण्ड आगमन पर सवा तीन करोड़ झारखण्डवासियों की ओर से माननीय राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द जी का हार्दिक अभिनंदन है।

इसे भी पढ़ें: झारखंड दौरे पर राष्ट्रपति कोविंद का कागज में लिपटे पुष्प से किया जाएगा स्वागत

राष्ट्रपति के आगमन से राज्य के लोगों को नयी उर्जा मिलेगी। इस बीच भारी बारिश को देखते हुए मुख्यमंत्री की कोलहान में चल रही जन आशीर्वाद यात्रा भी स्थगित कर दी गई है। मुख्यमंत्रील के प्रवक्ता ने बताया कि अगली तिथि की घोषणा बाद में की जायेगी। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...