राष्ट्रपति के सचिव संजय कोठारी केंद्रीय सतर्कता आयुक्त बने, पद की ली शपथ

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 25, 2020   13:28
राष्ट्रपति के सचिव संजय कोठारी केंद्रीय सतर्कता आयुक्त बने, पद की ली शपथ

विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘राष्ट्रपति भवन में सुबह साढ़े दस बजे आयोजित एक समारोह में संजय कोठारी ने केंद्रीय सतर्कता आयुक्त के तौर पर शपथ ली।’’

नयी दिल्ली। राष्ट्रपति के सचिव संजय कोठारी को शनिवार को केंद्रीय सतर्कता आयुक्त नियुक्त किया गया। राष्ट्रपति भवन से जारी एक विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई। देश की भ्रष्टाचार रोधी सर्वोच्च संस्था केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) के प्रमुख का पद के. वी. चौधरी का कार्यकाल पूरा होने के बाद पिछले साल जून से रिक्त था। विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘राष्ट्रपति भवन में सुबह साढ़े दस बजे आयोजित एक समारोह में संजय कोठारी ने केंद्रीय सतर्कता आयुक्त के तौर पर शपथ ली।’’ विज्ञप्ति में बताया गया कि उन्होंने राष्ट्रपति के समक्ष पद की शपथ ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक उच्च स्तरीय चयन समिति ने फरवरी में कोठारी के नाम की अनुशंसा की थी। 

इसे भी पढ़ें: संयुक्त राष्ट्र प्रमुख बोले, कोरोना से निपटने के लिए एकजुट होकर काम करें नेता 

उस समय कांग्रेस ने इसका विरोध करते हुए केंद्रीय सतर्कता आयुक्त की नियुक्ति के लिए अपनाई प्रक्रिया को ‘‘गैरकानूनी और असंवैधानिक’’ बताया था और फैसले को तत्काल वापस लेने की मांग की थी। कोठारी की नियुक्ति से सत्तारूढ़ भाजपा और विपक्षी दल कांग्रेस के बीच अब वाकयुद्ध बढ़ सकता है। उनकी नियुक्ति पर प्रतिक्रिया देते हुए फरवरी में कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने केंद्रीय सतर्कता आयुक्त की नियुक्ति के लिए फिर से आवेदन आमंत्रित करते हुए नए सिरे से प्रक्रिया शुरू करने की मांग की थी। हरियाणा कैडर के 1978 बैच के आईएएस अधिकारी कोठारी कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के सचिव पद से जून 2016 में सेवानिवृत्त हुए थे। उन्हें नवंबर 2016 में लोक उद्यम चयन बोर्ड (पीईएसबी) का प्रमुख नियुक्त किया गया था। कोठारी को जुलाई 2017 में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के सचिव पद पर नामित किया गया। इस बीच, केंद्र सरकार ने सोमवार को राष्ट्रपति के सचिव के तौर पर कपिल देव त्रिपाठी को नियुक्त किया। असम-मेघालय कैडर के 1980 बैच के आईएएस (सेवानिवृत्त) अधिकारी त्रिपाठी पीईएसबी के अध्यक्ष हैं। 

इसे भी पढ़ें: रमजान से लोगों को दूसरे के प्रति करूणामय एवं दयावान होने की प्रेरणा मिले : राष्ट्रपति 

केंद्रीय सतर्कता आयुक्त की नियुक्ति राष्ट्रपति एक चयन समिति की सिफारिश पर करते हैं जिसके अध्यक्ष प्रधानमंत्री हैं और गृह मंत्री तथा लोकसभा में विपक्ष के नेता इसके सदस्य होते हैं। सीवीसी प्रमुख का कार्यकाल चार वर्ष का या इसके मौजूदा प्रमुख की 65 वर्ष की आयु होने तक का होता है। सीवीसी में केंद्रीय सतर्कता आयुक्त और दो सतर्कता आयुक्त हो सकते हैं। वर्तमान में सतर्कता आयुक्त शरद कुमार अंतरिम केंद्रीय सतर्कता आयुक्त के तौर पर काम कर रहे हैं। कोठारी की नियुक्ति के बाद भी आयोग में सतर्कता आयुक्त का एक पद रिक्त है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।