चीन के खिलाफ विरोध तेज, चीनी दूतावास के बाहर हिन्दू सेना ने लगाया पोस्टर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 24, 2020   09:54
चीन के खिलाफ विरोध तेज, चीनी दूतावास के बाहर हिन्दू सेना ने लगाया पोस्टर

चीनी सैनिकों के आक्रामक रुख के विरोध में हिन्दू सेना के कार्यकर्ताओं ने चीनी दूतावास के नामपट्ट पर ‘चीन गद्दार है, हिन्दी चीनी बाय-बाय’ लिखा पोस्टर चस्पा किया।’’ हालांकि, पुलिस का कहना है कि इस संबंध में अभी तक कोई आधिकारिक शिकायत प्राप्त नहीं हुई है।

नयी दिल्ली। दक्षिणपंथी संगठन हिन्दू सेना के कार्यकर्ताओं ने राजधानी दिल्ली स्थित चीनी दूतावास के बाहर प्रदर्शन किया और वहां लगे एक नामपट्ट पर काला पोस्टर चस्पा कर दिया। पिछले सप्ताह पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में चीन के सैनिकों के आक्रामक रवैये और वहां हुई हिंसक झड़प में20 भारतीय सैंनिकों की शहादत के खिलाफ हिन्दू सेना के कार्यकर्ताओं ने यह प्रदर्शन किया। हिन्दू सेना के अध्यक्ष विष्णु गुप्ता ने कहा,‘’वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीनी सैनिकों के आक्रामक रुख के विरोध में हिन्दू सेना के कार्यकर्ताओं ने चीनी दूतावास के नामपट्ट पर ‘चीन गद्दार है, हिन्दी चीनी बाय-बाय’ लिखा पोस्टर चस्पा किया।’’ हालांकि, पुलिस का कहना है कि इस संबंध में अभी तक कोई आधिकारिक शिकायत प्राप्त नहीं हुई है। 

इसे भी पढ़ें: भारतीय इलेक्ट्रॉनिक बाजारों में चीन का दबदबा, 2019 में 1.4 लाख करोड़ रुपए का बेचा सामान

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘’किसी ने बोर्ड पर एक काला पेपर चस्पा कर दिया। आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं ताकि दोषी व्यक्ति की पहचान की जा सके। अभी तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गयी है।’’ पुलिस ने कहा कि बाद में पाया गया कि वहां से पोस्टर हटा दिया गया है। पुलिस यह नहीं बता सकी कि आखिर किसने वहां से पोस्टर हटाया। एनडीएमसी के अधिकारियों के मुताबिक उनके कर्मचारियों ने जब दूतावास का दौरा किया तो नामपट्ट को नुकसान पहुंचाए जाने जैसी कोई बात सामने नहीं आई। एनडीएमसी के पास ही इस इलाके के नामपट्ट के रख-रखाव की जिम्मेदारी है। राजधानी दिल्ली में यह कोई पहला मौका नहीं है जब किसी दक्षिणपंथी संगठन के कार्यकतार्ओं ने इस प्रकार विरोध जताया है है। वर्ष 2015 के मई महीने में मुस्लिम शासकों अकबर और फिरोजशाह मार्ग के नामपट्टों पर शिव सेना हिन्दुस्तान के पोस्टर चस्पा कर दिए गए थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।