पंजाब सरकार का दावा, कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 25, 2020   20:10
पंजाब सरकार का दावा, कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार

राज्य कोविड-19 प्रबंधन समूह की प्रमुख विनी ने उल्लेख किया कि वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों को सभी जिलो में नोडल अधिकारी और आईएएस अधिकारी सुमित जारंगल और तनु कश्यप को राज्य नोडल अधिकारियों के रूप में नियुक्त किया गया है ताकि वे प्रतिदिन के मामलों की निगरानी कर सकें।

चंडीगढ़। कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच पंजाब सरकार ने शनिवार को कहा कि राज्य सरकार अस्पतालों में बढ़ी हुई बिस्तर क्षमता, वेंटिलेटर, पीपीई, मास्क और जांच किट की पर्याप्त संख्या के साथ संक्रमण के प्रसार से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। आधिकारिक विज्ञप्ति में मुख्य सचिव विनी महाजन ने कहा, ‘‘राज्य सरकार अस्पतालों में बढ़ी हुई बिस्तर क्षमता, वेंटिलेटर, पीपीई, मास्क और जांच किट की पर्याप्त संख्या के साथ संक्रमण के प्रसार से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है।’’

>कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर वह राज्य भर के अस्पतालों में चिकित्सा व्यवस्था का जायजा ले रही थीं। मुख्य सचिव ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है और लोगों को घबराने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखने, हाथ धोना और मास्क पहनने जैसे स्वास्थ्य और सुरक्षा प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने का अनुरोध किया। 

इसे भी पढ़ें: ह्यूस्टन स्थित चीनी वाणिज्य दूतावास में अमेरिकी एजेंसी ने किया प्रवेश, हटाया गया चीन का झंडा

राज्य कोविड-19 प्रबंधन समूह की प्रमुख विनी ने उल्लेख किया कि वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों को सभी जिलो में नोडल अधिकारी और आईएएस अधिकारी सुमित जारंगल और तनु कश्यप को राज्य नोडल अधिकारियों के रूप में नियुक्त किया गया है ताकि वे प्रतिदिन के मामलों की निगरानी कर सकें।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।