राहुल ने कर्नाटक सरकार को देश में सबसे भ्रष्ट बताया; मैसुरु में यात्रा में दिखा उत्सव का रंग

Rahul
प्रतिरूप फोटो
ANI
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार को सोमवार को देश में ‘सबसे भ्रष्ट’’ करार दिया और कहा कि ‘‘कमीशन लेने की शिकायतें’ प्रधानमंत्री को भेजी गईं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार को सोमवार को देश में ‘‘सबसे भ्रष्ट’’ करार दिया और कहा कि ‘‘कमीशन लेने की शिकायतें’’ प्रधानमंत्री को भेजी गईं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। राहुल ने भारत जोड़ो यात्रा के 26वें दिन की शुरूआत सूर्योदय होते ही शुरू की और पुराने मैसुरु शहर की सड़कों से गुजरे, जो 10 दिवसीय दशहरा उत्सवों के लिए सजाई गई थी। राहुल पदयात्रा कर मांडया पहुंचे।

यात्रा के दौरान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष का स्वागत करने के लिए सड़क के दोनों ओर लोग खड़े थे और नारे लगा रहे थे। यात्रा के तहत कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल में अब तक 600 किमी से अधिक की दूरी तय की गई है। मैसुरु में ढोल की थाप के बीच यात्रा आगे बढ़ी। पारंपरिक परिधान पहने कलाकार कांग्रेस नेताओं के साथ चल रहे थे। राहुल ने रास्ते में समर्थकों से हाथ मिलाते और उनके साथ तस्वीरें खिंचवाते हुए 22 किमी की दूरी तय करने के बाद मांडया के पांडवपुरा बस अड्डा पर एक जनसभा को संबोधित किया।

वहां उन्होंने कर्नाटक में भाजपा सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘‘राज्य में यह 40 प्रतिशत कमीशन सरकार सबसे रिश्वत ले रही है और इससे सर्वाधिक पीड़ित किसान, मजदूर, छोटे कारोबारी और सूक्ष्म एवं मंझोले उद्यम हैं।’’ राहुल ने आरोप लगाया, ‘‘यह पूरे देश में सर्वाधिक भ्रष्ट सरकार है। यहां की भाजपा सरकार 40 प्रतिशत कमीशन ले रही है। कर्नाटक के ठेकेदारों ने प्रधानमंत्री को कमीशन के बारे में एक पत्र लिखा, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई, ना ही जवाब दिया गया।’’

कांग्रेस नेता ने कहा कि यहां तक कि भाजपा कार्यकर्ताओं को भी नहीं बख्शा गया और एक हालिया उदाहरण एक ठेकेदार द्वारा आत्महत्या करना है, जो भाजपा का एक नेता हुआ करता था और उसने कमीशन नहीं दे सकने के कारण यह कठोर कदम उठाया। राहुल ने लोगों से नफरत की राजनीति और देश में भाजपा द्वारा की जा रही हिंसा के खिलाफ भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने की अपील की। उन्होंने दशहरा उत्सव की भी लोगों को शुभकामना दी, जो मैसुरु में पारंपरिक उल्लास के साथ मनाया जा रहा है।

राहुल ने रविवार रात मैसुरु में मूसलाधार बारिश के बीच एक जनसभा को संबोधित किया था और भीगने के बाद भी अपना भाषण जारी रखा था। दो दिन के विराम के बाद यात्रा बृहस्पतिवार को श्रीरंगपट्टन शहर में प्रवेश करेगी, जहां कभी टीपू सुल्तान ने शासन किया था। मैसुरु पहुंची कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी बृहस्पतिवार को यात्रा में शामिल होंगी। राहुल ने सोमवार शाम एक ट्वीट में कहा, ‘‘देश जोड़ने की राह पर, साथ चल रहे भारत यात्रियों में मैंने अद्भुत आत्मविश्वास देखा है। उनका साहस और संकल्प मेरे लिए प्रेरणास्रोत है, और इस यात्रा की धरोहर है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे गर्व है हम सब ने मिलकर इस यात्रा के तहत 600 से अधिक किमी की दूरी तय कर ली है। सभी को प्यार और शुभकामनाएं।’’ सोमवार को दुर्गा अष्टमी के अवसर पर राहुल ने यहां चामुंडी पहाड़ियों के ऊपर स्थित चामुंडेश्वरी मंदिर जा कर पूजा अर्चना की। राहुल जब मंदिर गए, तब उनके साथ उनके समर्थक और पार्टी के नेता भी थे। देवी चामुंडेश्वरी मैसूर राजघराने की कुल देवी और कई शताब्दियों से मैसुरू की अधिष्ठात्री देवी हैं। मंदिर जाने के बाद राहुल गांधी ने एक ट्वीट में कहा ‘‘धार्मिक सद्भाव भारत के शांतिपूर्ण और प्रगतिशील भविष्य की नींव है।’’

राहुल ने फेसबुक पर एक पोस्ट में कहा, ‘‘मंदिर हो या मस्जिद, चर्च हो या गुरुद्वारा, सब सिर्फ़ एक ही संदेश देते हैं- प्रेम, करुणा, अमन और भाईचारा।हमारा देश कई धर्मों, भाषाओं व संस्कृतियों का संगम है। यही भारत की ख़ूबसूरती है। और यह विविधता ही हमारे देश की ताक़त है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ आज जब देश की इसी ताक़त पर हमला हो रहा है, तब हमें अपना प्यारा भारत बचाना है। भारत जोड़ो यात्रा हर धर्म, हर वर्ग, हर बच्चे, बूढ़े, महिला और नौजवान के लिए है। आइए, हम सब साथ मिलकर अपना भारत जोड़ें।’’ कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने मैसुरु में राहुल के बारिश में भीगने की घटना को सोमवार को ‘‘यात्रा का निर्णायक क्षण’’ बताया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़