“कमजोर” आर्थिक स्थिति को लेकर राहुल गांधी ने केंद्र, एलडीएफ सरकार पर साधा निशाना

Rahul Gandhi
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने छह अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनावों के लिये शुक्रवार को अपने प्रचार अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत करते हुए “कमजोर” आर्थिक स्थितियों के लिये केंद्र और एलडीएफ सरकारों पर निशाना साधा।

पलक्कड़। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने छह अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनावों के लिये शुक्रवार को अपने प्रचार अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत करते हुए “कमजोर” आर्थिक स्थितियों के लिये केंद्र और एलडीएफ सरकारों पर निशाना साधा। गांधी ने यहां एक चुनावी सभा में कहा, “देश और राज्य की आर्थिक स्थिति कमजोर है और नोटबंदी व त्रुटिपूर्ण जीएसटी के कारण यह बद्तर हो गई है। दोनों ही सरकारें अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने में नाकाम रहीं।” कोयंबटूर से हेलीकॉप्टर के जरिये यहां पहुंचे कांग्रेस नेता दो दिवसीय दौरे पर हैं और इस दौरान पलक्कड़ व मलाप्पुरम जिलों में सभाओं को संबोधित करेंगे।

इसे भी पढ़ें: मुंबई के मॉल में स्थित अस्पताल में लगी आग में अबतक 10 कोरोना मरीजों की मौत

माकपा के नेतृत्व वाली सत्ताधारी एलडीएफ पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने का उसका प्रयास वैसा ही है जैसा कोई बिना पेट्रोल के कार को चालू करने की कोशिश करे। राहुल ने कहा, “हमें अर्थव्यवस्था में पूंजी डालने की जरूरत है।

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में कोरोना से छह और मरीजों की मौत, एक हजार से अधिक नये मामले

जब हमने रोजगार गारंटी योजना को शुरू करने का प्रयास किया तो बहुत से लोगों ने कहा कि यह धन की बर्बादी है। लेकिन बाद में उन्हें मानना पड़ा कि इससे अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिला।” उन्होंने दावा किया कि ‘न्याय’ (न्यूनतम आय गारंटी) योजना से अर्थव्यवस्था में पैसा आएगा और आम आदमी की क्रय शक्ति बढ़ेगी इसलिये उत्पादन सेक्टर को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा, “इससे रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़