मुंबई सेंट्रल स्टेशन पर तैयार होने जा रहा पॉड होटल, रेलवे यात्रियों को मिलेंगे यह खास इंतजाम

मुंबई सेंट्रल स्टेशन पर तैयार होने जा रहा पॉड होटल, रेलवे यात्रियों को मिलेंगे यह खास इंतजाम
प्रतिरूप फोटो

पॉड होटल में तीन श्रेणियां शामिल हैं। यह 30 क्लासिक पॉड, केवल 7 महिलाएं, 10 निजी पॉड और एक दिव्यांग यात्रियों के लिए तैयार किया गया है। क्लासिक पॉड्स और लेडीज़ ओनली पॉड्स आराम से एक मेहमान के लिए तैयार किया गया है, निजी पॉड में कमरे के भीतर एक प्राइवेट प्लेस भी होगा।

रेलवे राज्य मंत्री रावसाहेब दानवे ने बुधवार को मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर भारतीय रेलवे के पहले पॉड होटल का उद्घाटन किया। मेजेनाइन फ्लोर के साथ लगभग 3000 वर्ग फुट के क्षेत्र में फैला पॉड होटल, मुंबई सेंट्रल में स्टेशन की पहली मंजिल पर स्थित है और इसमें 48 कैप्सूल जैसे कमरे हैं जिनमें क्लासिक पॉड्स, प्राइवेट पॉड्स और महिलाओं के लिए अलग पॉड शामिल हैं।इस पॉड होटल में रात भर किफ़ायती आराम करने के लिए कई छोटे बिस्तर के आकार के कैप्सूल भी हैं। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग, उपभोक्ता मामले और कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल ने इस पॉड होटल का एक वीडियो भी शेयर किया है। 

बता दें कि पॉड होटल में तीन श्रेणियां शामिल हैं। यह 30 क्लासिक पॉड, केवल 7 महिलाएं, 10 निजी पॉड और एक दिव्यांग यात्रियों के लिए तैयार किया गया है। क्लासिक पॉड्स और लेडीज़ ओनली पॉड्स आराम से एक मेहमान के लिए तैयार किया गया है, निजी पॉड में कमरे के भीतर एक प्राइवेट प्लेस भी होगा। वहीं दिव्यांगों के लिए बनाए गए कमरे में आराम से 2 मेहमानों की व्यवस्था होगी। आवाजाही के लिए व्हीलचेयर की मुफ्त सर्विस भी मिलेगी। यात्री 12 घंटे के लिए 999 रुपये और 24 घंटे के लिए 1,999 रुपये में पॉड होटल बुक कर सकते हैं। वहीं  निजी पॉड के लिए, 12 घंटे के लिए यात्री को 1,249 रुपये का भुगतान करना होगा और 24 घंटे की अवधि के लिए इसकी कीमत 2,499 रुपये होगी।

इसे भी पढ़ें: अदालती आदेश का 10 साल तक पालन नहीं करने वाले अधिकारी के निलंबन का आदेश

इसमें मुफ्त वाई-फाई का भी लाभ उठा सकते हैं और होटल परिसर में वाशरूम, सामान और शॉवर रूम का उपयोग कर सकते हैं। पॉड कैप्सूल के अंदर टीवी, मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट और रीडिंग लाइट तक शामिल है। पॉड्स में इंटीरियर लाइट, मोबाइल चार्जिंग, स्मोक डिटेक्टर और डीएनडी इंडिकेटर्स भी होंगे। भारतीय रेलवे ने कहा है कि अगर मुंबई सेंट्रल स्टेशन पर यह पॉड होटल सफल होता है तो वह शहर के अन्य स्टेशनों पर भी इसी तरह के पॉड होटल तैयार किए जाएंगे। जानकारी के लिए बता दें कि, एक निजी फर्म द्वारा विकसित भारत का पहला पॉड होटल, अंधेरी में 2017 में आया था, लेकिन यह अब काम नहीं कर रहा है।पॉड होटल सबसे पहले जापान में विकसित किए गए थे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।