सफर में खाना ले जाने की झंझट खत्म, रेलवे ने फिर शुरू की ट्रेन में खाना परोसने की प्रक्रिया

सफर में खाना ले जाने की झंझट खत्म, रेलवे ने फिर शुरू की ट्रेन में खाना परोसने की प्रक्रिया

लंबी दूरी की ट्रेन यात्रा के यात्रियों को अब भोजन पैक करने के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि रेलवे ने पके हुए भोजन सेवाओं को फिर से शुरू करने का फैसला किया है जिन्हें कोविड महामारी के दौरान बंद कर दिया गया था।

नयी दिल्ली। लंबी दूरी की ट्रेन यात्रा के यात्रियों को अब भोजन पैक करने के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि रेलवे ने पके हुए भोजन सेवाओं को फिर से शुरू करने का फैसला किया है जिन्हें कोविड महामारी के दौरान बंद कर दिया गया था। यह कदम राष्ट्रीय ट्रांसपोर्टरों द्वारा मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के लिए “विशेष” टैग को बंद करने और तत्काल प्रभाव से पूर्व-महामारी टिकट की कीमतों पर वापस जाने का निर्णय लेने के कुछ दिनों बाद आया है। इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईआरसीटीसी) को लिखे पत्र में रेलवे बोर्ड ने कहा कि ट्रेन सेवाओं के सामान्य होने और देश भर के रेस्तरां और भोजनालयों में कोविड प्रतिबंधों में ढील देने के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है कि ट्रेनों में फिर से भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। पत्र में कहा गया है कि रेडी टू ईट मील की सेवा भी जारी रहेगी।

इसे भी पढ़ें: सेना की टारगेट किलिंग का शिकार हुए 2 छात्र? बलूचों के खिलाफ पाक में चलाए जा रहे दमन चक्र के खिलाफ विरोध प्रदर्शन तेज

 

रेलवे ट्रेनों में पका हुआ खाना देना फिर से शुरू करेगा

रेलवे बोर्ड ने रेलगाड़ियों में यात्रियों को पका हुआ भोजन (कुक्ड फूड)परोसना फिर से शुरू करने का आदेश जारी किया है। इस सेवा को कोविड-19 प्रतिबंधों की वजह से बंद कर दिया गया था। रेलवे बोर्ड ने शुक्रवार को एक पत्र में भारतीय रेलवे खानपान एंड पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) को सेवा फिर से शुरू करने को कहा।

इसे भी पढ़ें: तलाक के शर्म से बचने के लिए Open Marriage में थे लॉर्ड माउंटबेटन और एडविना, नेहरू को लिखती थीं Love Letters

 

रेलवे बोर्ड की तरफ से जारी किया गया बयान 

रेलवे बोर्ड ने यह भी कहा कि यात्रियों को ‘खाने के लिए तैयार’ (रेडी-टू-ईट) भोजन भी परोसा जाता रहेगा। पत्र में कहा गया है, “सामान्य ट्रेन सेवाओं की बहाली, यात्रा करने वाले यात्रियों की आवश्यकताओं और देशभर के भोजनालयों, रेस्तरां, होटलों और ऐसे अन्य स्थानों पर कोविड लॉकडाउन प्रतिबंधों में ढील के मद्देनजर, रेल मंत्रालय द्वारा रेलगाड़ियों में पके हुए भोजन की सेवाओं को फिर से शुरू करने का निर्णय लिया गया है। खाने के लिए तैयार भोजन की सेवा भी जारी रहेगी।” इस महीने की शुरुआत में रेलवे ने महामारी के चलते बाधित सामान्य ट्रेन परिचालन को बहाल करने की घोषणा की थी।

शेयर मार्किट पर पड़ेगा असर 

पिछले शनिवार को, रेलवे ने "विशेष" टैग को छोड़ने और पूर्व-महामारी टिकट की कीमतों पर लौटने का फैसला किया था किसके बाद शेयर मार्किट में आईआरसीटीसी के शेयर उपर हुए थे लेकिन कुछ समय बाद फिर से डाउन हो गये थे। अनुमान है इस फैसले के बाद शेयर में उछाल आ सकता है। ट्रेनों में पका हुआ खाना परोसने का रेलवे का फैसला भी नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा एयरलाइंस को सभी घरेलू उड़ानों में भोजन परोसने की अनुमति देने के कुछ दिनों बाद आया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।