Rajasthan: सात साल के बच्चे का यौन उत्पीड़न करने के मामले में एक किशोर को 20 साल की सजा

 20 years in jail
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Common
लोक अभियोजक धीरेंद्र चौधरी ने कहा कि घटना सितंबर 2021 की है, जब दोषी 16 महीने नौ माह का था लेकिन किशोर न्याय बोर्ड ने सिफारिश की कि उस पर एक वयस्क के रूप में मुकदमा चलाया जाए।

कोटा। जिले की एक विशेष अदालत ने सात साल के बच्चे का यौन उत्पीड़न करने के मामले में 18 साल के एक लड़के को 20 साल जेल की सजा सुनाई है, लेकिन उसे 21 साल की उम्र तक सुधार गृह में रखा जाएगा। अदालत ने दोषी पर 20 हजार रुपये का जुर्माना लगाते हुए कहा कि इसे अदा करने में नाकाम रहने पर उसे अतिरिक्त छह महीने जेल में बिताने होंगे। लोक अभियोजक धीरेंद्र चौधरी ने कहा कि घटना सितंबर 2021 की है, जब दोषी 16 महीने नौ माह का था लेकिन किशोर न्याय बोर्ड ने सिफारिश की कि उस पर एक वयस्क के रूप में मुकदमा चलाया जाए।

इसे भी पढ़ें: Home Minister Shah ने 18वें स्थापना दिवस पर एनडीआरएफ को शुभकामनाएं दीं

चौधरी ने बताया कि हालांकि अदालत ने कहा कि उसके 21 साल का होने तक ‘‘उसे सुरक्षित जगह’’ रखा जाए। उसके शैक्षिक, बौद्धिक और व्यवहारिक विकास के लिए परामर्श प्रदान किया जाए। यह घटना कोटा जिले के रामगंज मंडी थाना क्षेत्र के एक गांव की है। पीड़ित लड़के के एक रिश्तेदार ने 14 सितंबर 2021 को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़