देश की आन्तरिक सुरक्षा में खुफिया ब्यूरो की भूमिका धुरी की तरहः राजनाथ

Rajnath high level meeting to review the country internal security situation
केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि देश की आन्तरिक सुरक्षा व्यवस्था में खुफिया ब्यूरो की भूमिका एक धुरी की तरह है।

जयपुर। केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि देश की आन्तरिक सुरक्षा व्यवस्था में खुफिया ब्यूरो की भूमिका एक धुरी की तरह है। सिंह जोधपुर में खुफिया ब्यूरो के पश्चिम क्षेत्र प्रशिक्षण केन्द्र भवन के लोकार्पण समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने देश की आन्तरिक सुरक्षा व्यवस्था में खुफिया ब्यूरो (आईबी) की भूमिका की सराहना करते हुए कहा कि इसका आन्तरिक सुरक्षा में महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि नक्सली के खिलाफ, पूर्वात्तर में, कश्मीर की कानून व्यवस्था सभी पर सर्वाधिक कामयाबी आईबी के फीडबैक और सटीक सूचना के आधार पर मिल पाती है। कश्मीर में अब हालात बदले हैं, प्रतिदिन दो चार आंतकवादी सुरक्षा बलों द्वारा मार गिराये जा रहे हैं, इसमें मुख्य भूमिका आईबी की रहती है।

गृह मंत्री ने कहा कि भारत बड़ा देश है, आन्तरिक सुरक्षा एक बड़ा कार्य है, इसे अकेले आईबी नहीं कर सकती, अन्य शाखाओं, संगठनों का भी सहयोग मिलता है। देश में आन्तरिक सुरक्षा चुनौती है जिसका आईबी प्रभावी रूप से मुकाबला कर रही है इसके लिए जितनी प्रशंसा की जाये कम है। उन्होंने प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया की बात करते हुए कहा कि विकास चाहते हैं तो डिजिटल लिटरेसी, डिजिटल सिक्यूरेटी और साइबर क्राइम के बारे में लोगों को जानकारी हो। आईबी इसके बारे में लोगों को जानकारी कराएं, ताकि साइबर धोखाधड़ी से लोगों को निजात मिल सके।केन्द्रीय गृहमंत्री ने आशा व्यक्त की कि इस प्रशिक्षण सेन्टर से प्रशिक्षण प्राप्त कर आईबी कर्मचारी व अधिकारी अपनी कार्यक्षमता में और अधिक बढ़ोत्तरी करेंगे। गृहमंत्री ने परिसर में अमलतास के पौधे का रोपण भी किया।

समारोह में केन्द्रीय कृषि एवं कृषक कल्याण राज्य मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत, केन्द्रीय विधि एवं न्याय राज्य मंत्री पी पी चौधरी, राज्य के वन पर्यावरण एवं खेल मंत्री गजेन्द्र सिंह खींवसर और जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री एवं जिला प्रभारी सुरेन्द्र गोयल भी उपस्थित थे। आईबी के निदेशक राजीव जैन ने समारोह को सम्बोधित करते हुए ट्रेनिंग सेंटर के बारे में विस्तार से बताया और कहा कि अब तक 7262 लोगों को प्रशिक्षण दिया गया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़