राजनाथ सिंह ने कोविड-19 महामारी के निपटने के रक्षा मंत्रालय के प्रयासों की समीक्षा की

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 24, 2021   16:09
राजनाथ सिंह ने कोविड-19 महामारी के निपटने के रक्षा मंत्रालय के प्रयासों की समीक्षा की

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के खिलाफ जंग में सहयोग कर रहीं मंत्रालय की विभिन्न इकाइयों के प्रयासों की शनिवार को समीक्षा की।

नयी दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के खिलाफ जंग में सहयोग कर रहीं मंत्रालय की विभिन्न इकाइयों के प्रयासों की शनिवार को समीक्षा की। सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये समीक्षा बैठक की, जिसमें प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत, सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे, नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह और रक्षा एवं अनुसंधान विकास संगठन के अध्यक्ष जी सतीश रेड्डी तथा अन्य अधिकारी शामिल हुए। कोविड-19 के तेजी से बढ़ते मामलों से निपटने के लिए सेना के तीनों अंगों के साथ-साथ रक्षा मंत्रालय की अन्य इकाइयां भी विभिन्न राज्यों और केन्द्रशासित प्रदेशों को सहयोग प्रदान कर रही हैं।

इसे भी पढ़ें: पिछले साल से बड़ी है इस बार कोविड-19 की चुनौती, गांवों तक पहुंचने से रोकना है: पीएम मोदी

रक्षा मंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह देश में कोविड-19 से उत्पन्न हालात से निपटने के प्रयासों की समीक्षा कर रहे हैं। कोविड-19 रोगियों के इलाज में इस्तेमाल की जा रही चिकित्सीय ऑक्सीजन का तेजी से परिवहन सुनिश्चित करने के लिए वायुसेना ने शुक्रवार से खाली ऑक्सीजन टैंकरों और कंटेनरों को देश के विभिन्न फिलिंग स्टेशनों तक पहुंचाने का काम शुरू कर दिया। इसके अलावा वायुसेना देश के विभिन्न हिस्सों में कोविड अस्पतालों के लिए दवाओं के साथ-साथ आवश्यक उपकरणों की भी ढुलाई कर रही है।

इसे भी पढ़ें: युद्ध स्तर पर ऑक्सीजन जुटाने में लगी सरकार, सिंगापुर से चार क्रायोजेनिक टैंक मंगाए गये

वायुसेना का एक सी-17 परिवहन विमान उच्च क्षमता वाले कंटेनर लेने शनिवार को सिंगापुर के चांगी हवाईअड्डे पहुंचा। सिंह के कार्यालय ने ट्वीट किया, वायुसेना के विमान ऑक्सीजन और अन्य महत्वपूर्ण वस्तुओं की कम समय में ढुलाई कर रहे हैं। एक सी-17 आज सिंगापुर के चांगी हवाईअड्डे पहुंच गया है। क्रायोजेनिक ऑक्सीजन के ये कंटेनर देश में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने में मदद करेंगे। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर चल रही है। कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के चलते विभिन्न राज्यों में अस्पतालों में चिकित्सीय ऑक्सीजन की भारी कमी हो गई है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।