राजनाथ ने भरी हुंकार, कहा- किसी भी स्थिति का सामना करने के लिये सुरक्षा बल तैयार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 25, 2019   17:20
राजनाथ ने भरी हुंकार, कहा- किसी भी स्थिति का सामना करने के लिये सुरक्षा बल तैयार

रावत ने सोमवार को कहा था कि पाकिस्तान ने बालाकोट में आतंकवादी शिविरों को हाल ही में फिर से सक्रिय कर दिया है और करीब 500 घुसपैठिए भारत में घुसने की फिराक में हैं।

चेन्नई। पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी शिविरों को फिर से सक्रिय किए जाने पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को कहा कि भारतीय सुरक्षा बल हर स्थिति का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। थल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत द्वारा इस संबंध में सोमवार को दिये एक बयान के बारे में पूछे जाने पर रक्षा मंत्री ने यह कहा। रक्षा मंत्री ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘ चिंता ना करें, हमारे सुरक्षा बल पूरी तरह तैयार हैं।’’

गौरतलब है कि रावत ने सोमवार को कहा था कि पाकिस्तान ने बालाकोट में आतंकवादी शिविरों को हाल ही में फिर से सक्रिय कर दिया है और करीब 500 घुसपैठिए भारत में घुसने की फिराक में हैं। इस साल, 14 फरवरी को पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने कश्मीर के पुलवामा जिले में सीआरपीएफ के जवानों के एक काफिले को निशाना बना कर विस्फोट किया था। इसमें बल के 40 जवान शहीद हो गए थे। वहीं, भारतीय वायुसेना ने जवाबी कार्रवाई करते हुए 26 फरवरी को पाकिस्तान के अंदर बालाकोट में जैश के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर एयर स्ट्राइक किये थे। 

इसे भी पढ़ें: बालाकोट पर बोले राजनाथ, चिंता ना करें, हमारे सैनिक पूरी तरह से हैं तैयार

पाकिस्तानी ड्रोन विमानों के पंजाब में हथियार एवं गोला-बारूद गिराने की घटनाओं को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह द्वारा गृह मंत्रालय से मदद मांगे जाने के बारे में पूछे जाने पर रक्षा मंत्री ने कहा कि जहां तक देश की सुरक्षा का सवाल है...सशस्त्र बलों के पास ऐसी चुनौतियों से निपटने की क्षमता है। अमरिंदर ने मंगलवार को एक ट्वीट में कहा था, ‘‘पकिस्तानी ड्रोन विमानों द्वारा हथियार एवं गोला-बारूद गिराने की हालिया घटनाएं (जम्मू कश्मीर से) अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को निरस्त किए जाने के बाद पाकिस्तान के नापाक मंसूबों की नयी और गंभीर हरकत है। अमित शाह जी इस ड्रोन समस्या से यथाशीघ्र निपटने को सुनिश्चित करें।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।