राज्यसभा की 57 सीटों के लिए 10 जून को होंगे चुनाव, जानिए पूरा शेड्यूल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 12, 2022   17:57
राज्यसभा की 57 सीटों के लिए 10 जून को होंगे चुनाव, जानिए पूरा शेड्यूल
प्रतिरूप फोटो
Creative Commons licenses

पंद्रह राज्यों की 57 राज्यसभा सीटों के लिए 10 जून को चुनाव होंगे। निर्वाचन आयोग ने बृहस्पतिवार को यह घोषणा की। जिन सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है, उनमें केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, कांग्रेस नेता अंबिका सोनी, जयराम रमेश और कपिल सिब्बल तथा बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सतीश चंद्र मिश्र प्रमुख हैं।

नयी दिल्ली। पंद्रह राज्यों की 57 राज्यसभा सीटों के लिए 10 जून को चुनाव होंगे। निर्वाचन आयोग ने बृहस्पतिवार को यह घोषणा की। जून और अगस्त महीने के बीच इन सीटों का प्रतिनिधित्व कर रहे सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। जिन सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है, उनमें केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, कांग्रेस नेता अंबिका सोनी, जयराम रमेश और कपिल सिब्बल तथा बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सतीश चंद्र मिश्र प्रमुख हैं। इन सदस्यों का कार्यकाल 21 जून से एक अगस्त के बीच समाप्त हो रहा है। 

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में कब होंगे विधानसभा चुनाव ? मुख्य चुनाव आयुक्त बोले- राजनीतिक दलों से चर्चा के बाद लिया जाएगा फैसला 

उत्तर प्रदेश के 11 सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है जबकि महाराष्ट्र और तमिलनाडु के छह-छह सदस्य इस अवधि में सेवानिवृत्त हो रहे हैं। जिन अन्य सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है, उनमें पांच बिहार से, चार-चार आंध्र प्रदेश, राजस्थान और कर्नाटक से हैं। तीन-तीन सदस्य मध्य प्रदेश और ओड़िशा से हैं। सेवानिवृत्त हो रहे सदस्यों में दो-दो सदस्य तेलंगाना, छत्तीसगढ़, पंजाब, झारखंड और हरियाणा से हैं जबकि एक सदस्य उत्तराखंड से है। इन चुनावों की अधिसूचना 24 मई को जारी होगी जबकि मतदान 10 जून को होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।