गुरदासपुर में रावी नदी का जलस्तर बढ़ा, लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने को कहा गया

ravi
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
जिला प्रशासन ने रावी नदी के पास के इलाकों से लोगों और उनके पशुओं को निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। बंबा ने कहा कि जिला प्रशासन ने स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त इंतजाम किए हैं और नदी के पास रहने वाले लोगों को सतर्क रहने को कहा है।

चंडीगढ़, 1 अगस्त। पंजाब में गुरदासपुर प्रशासन ने रविवार को रावी नदी के पास के निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए कहा है क्योंकि लगातार बारिश के बाद जल स्तर बढ़ गया। अधिकारियों ने बताया कि गुरदासपुर की अतिरिक्त उपायुक्त निधि कुमुद बंबा ने स्थिति का जायजा लेने के लिए मकोरा पाटन और आसपास के गांवों का दौरा किया।

जिला प्रशासन ने रावी नदी के पास के इलाकों से लोगों और उनके पशुओं को निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। बंबा ने कहा कि जिला प्रशासन ने स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त इंतजाम किए हैं और नदी के पास रहने वाले लोगों को सतर्क रहने को कहा है। उन्होंने उनसे नदी तट पर न जाने की अपील भी की। मकोरा पाटन के पास रहने वाले ग्रामीणों के ठहरने के लिए सरकारी स्कूल में राहत केंद्र बनाया गया है।

अधिकारियों ने कहा कि बाढ़ जैसी स्थिति से निपटने के लिए विभिन्न टीमों का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि दवा, भोजन, चारा, नौका और ‘लाइफ जैकेट’ की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। संबंधित अधिकारियों को स्थिति की चौबीस घंटे निगरानी करने के लिए कहा गया है। प्रशासन ने गुरदासपुर, बटाला, डेरा बाबा नानक और दीनानगर में बाढ़ नियंत्रण कक्ष स्थापित किए हैं। पंजाब के कई हिस्सों में रविवार को बारिश हुई।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़