सिसोदिया के खिलाफ खड़े भाजपा के रवींद्र नेगी की कुल संपत्ति 1.29 करोड़, कोई वाहन नहीं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 20, 2020   19:42
सिसोदिया के खिलाफ खड़े भाजपा के रवींद्र नेगी की कुल संपत्ति 1.29 करोड़, कोई वाहन नहीं

मनीष सिसोदिया के खिलाफ पूर्वी दिल्ली की पटपड़गंज विधानसभा से खड़े हुए भाजपा के प्रत्याशी रवींद्र सिंह नेगी के पास कुल 1.29 करोड़ रुपये की संपत्ति है। उन्होंने 1.13 करोड़ की अचल संपत्ति दिखाई है जबकि उनकी पत्नी के पास 52 लाख रुपये की अचल संपत्ति है। उन पर कोई कर्ज या आपराधिक मामला लंबित नहीं है।

नयी दिल्ली। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और आप के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया के खिलाफ पूर्वी दिल्ली की पटपड़गंज विधानसभा से खड़े हुए भाजपा के प्रत्याशी रवींद्र सिंह नेगी के पास कुल 1.29 करोड़ रुपये की संपत्ति है, यद्यपि उनके नाम पर कोई वाहन नहीं है। कारोबारी व राजनेता नेगी ने 2018-19 में अपने आयकर रिटर्न में कुल 5.94 लाख रुपये की आय दिखाई थी। उनकी पत्नी रेणु नेगी एक ठेकेदार हैं और उन्होंने इसी अवधि के दौरान दाखिल आयकर रिटर्न में करीब 4.09 लाख रुपये की आय दिखाई थी। उन्होंने 16.4 लाख रुपये की चल संपत्ति दिखाई है जबकि उनकी पत्नी के पास 20.95 लाख रुपये की संपत्ति है। नेगी के पास कोई मोटरवाहन नहीं है जबकि उनकी पत्नी के पास होंडा एक्टिवा है।

इसे भी पढ़ें: AAP, भाजपा और कांग्रेस के उम्मीदवारों के सामने हैं ये चुनौतियां ? कौन मारेगा असल बाजी

उन्होंने 1.13 करोड़ की अचल संपत्ति दिखाई है जबकि उनकी पत्नी के पास 52 लाख रुपये की अचल संपत्ति है।  उन पर कोई कर्ज या आपराधिक मामला लंबित नहीं है। भाजपा उम्मीदवार ने 2002 में पत्राचार के जरिये दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री ली थी। मनीष सिसोदिया ने अपने चुनावी हलफनामे में घोषणा की थी कि उनके नाम पर कोई कार नहीं है और 2018-19 में उनकी चल संपत्ति 4,74,888 लाख रुपये थी।  सिसोदिया ने 2015 में अपने हलफनामे में जानकारी दी थी कि उन्होंने गाजियाबाद के वसुंधरा में अप्रैल 2001 में 5.07 लाख रुपये की संपत्ति ली थी। इस संपत्ति की 2015 में अनुमानित कीमत लगभग 12 लाख रुपये थी। अपने हालिया हलफनामे में आप नेता ने इसी संपत्ति का जिक्र किया है। हालांकि इसकी अनुमानित कीमत 2020 में बढ़कर 21 लाख रुपये हो गई। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।