ओडिशा में कोरोना के 3,371 नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 87 हजार के पार, अबतक 441 मरीजों की मौत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 26, 2020   14:47
ओडिशा में कोरोना के 3,371 नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 87 हजार के पार, अबतक 441 मरीजों की मौत

अधिकारी ने बताया कि राज्य में कुल 441 मौतों में से सबसे ज्यादा 183 लोगों की मौत गंजाम जिले में हुई है। राज्य में 27,638 लोगों का इलाज चल रहा है और 59,470 लोग अब तक इस बीमारी से स्वस्थ हो चुके हैं।

भुवनेश्वर। ओडिशा में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 3,371 नए मरीज सामने आए हैं। वहीं, इस खतरनाक वायरस से 13 और लोगों की मौत हो गई। राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या अब 87,602 जबकि मृतकों की संख्या 441 है।स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी नेयह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि नए मामले सभी 30 जिलों से सामने आए हैं जबकि सात जिलों में लोगों की मौतें हुई हैं। अधिकारी ने बताया कि नए मरीजों मे से 2,053मरीज पृथक-वास केंद्रों से हैं जबकि 1,318 मरीजों का पता संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों की तलाश के दौरान चला। 

इसे भी पढ़ें: RBI की रिपोर्ट साझा कर बोले राहुल गांधी, सरकार को अब ज्यादा खर्च करने की जरूरत नहीं, गरीब को दें पैसा 

उन्होंने बताया कि खुर्दा जिले में सबसे ज्यादा 547 नए मरीज मिले हैं। भुवनेश्वर भी खुर्दा का हिस्सा है। वहीं कटक में 357 और गंजाम में 196 मामले सामने आए हैं। राज्य के कुल 30 में से 11 जिलों में संक्रमण के 100 से ज्यादा मामलै सामने आए हैं। अधिकारी ने बताया कि राज्य में इससे पहले 22 अगस्त को रिकॉर्ड 2,993 मामले सामने आए थे। उन्होंने बताया कि सुंदरगढ़ और सम्बलपुर जिलों में तीन-तीन लोगों की मौत हुई। वहीं कटक और गंजाम में दो-दो लोगों की मौत हुई जबकि क्योंझर, पुरी और खुर्दा में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई। राज्य में कुल 441 मौतों में से सबसे ज्यादा 183 लोगों की मौत गंजाम जिले में हुई है। राज्य में 27,638 लोगों का इलाज चल रहा है और 59,470 लोग अब तक इस बीमारी से स्वस्थ हो चुके हैं। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।