हिमाचल प्रदेश में कोविड मरीजों की वृद्धि दर में आई कमी

हिमाचल प्रदेश में कोविड मरीजों की वृद्धि दर में आई कमी

फरवरी, 2021 में प्रदेश में लगभग 200 सक्रिय मामले थे, लेकिन दूसरी लहर के आने के पश्चात 13 मई 2021 तक कोरोना मरीजों के सक्रिय मामले बढ़कर 40 हजार से अधिक हो गए थे। 17 से 23 मई 2021 के बीच में प्रदेश के विभिन्न जिलों में कुल 96135 कोरोना टेस्ट किए गए, जिनमें 18794 लोग पॉजीटिव पाए गए है और प्रदेश में पॉजीटिविटि दर 19.5 प्रतिशत दर्ज की गई है।

शिमला। हिमाचल प्रदेश में पिछले एक सप्ताह में प्रदेश में कोविड मरीजों की वृद्धि में कमी आई है।  प्रदेश में 10 से 16 मई, 2021 के बीच कोरोना मरीजों की वृद्धि दर जहां 28.9 प्रतिशत थी, वह अब पिछले एक सप्ताह में घटकर 19.5 प्रतिशत रह गई है। पिछले सप्ताह में कोविड के कुल 18794 मामले सामने आए हैं जबकि 10 से 16 मई, 2021 के दौरान एक सप्ताह में कोविड के 28817 पॉजीटिव मामले सामने आए थे। प्रदेश में अब तक कुल 179034 लोग कोविड पॉजीटिव पाए गए हैं। फरवरी, 2021 में प्रदेश में लगभग 200 सक्रिय मामले थे, लेकिन दूसरी लहर के आने के पश्चात 13 मई 2021 तक कोरोना मरीजों के सक्रिय मामले बढ़कर 40 हजार से अधिक हो गए थे। 17 से 23 मई 2021 के बीच में प्रदेश के विभिन्न जिलों में कुल 96135 कोरोना टेस्ट किए गए, जिनमें 18794 लोग पॉजीटिव पाए गए है और प्रदेश में पॉजीटिविटि दर 19.5 प्रतिशत दर्ज की गई है।

इसे भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश में अब तक 2,874 पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित, पांच की मौत

जिला बिलासपुर में 8329 कोरोना टेस्ट किए गए, जिनमें 1284 मामले पॉजीटिव पाए गए है। जिला चंबा में 8107 कोरोना टेस्ट किए गए, जिनमें 1068 मामले पॉजीटिव, जिला हमीरपुर में 5951 टेस्ट किए गए जिनमें 1424 पॉजीटिव, जिला कांगड़ा में 21766 टेस्ट किए गए जिनमें 5498 पॉजीटिव, जिला किन्नौर में 3511 टेस्ट किए गए जिनमें 295 पॉजीटिव, जिला लाहौल स्पीति में 2693 टेस्ट किए गए, जिनमें 119 पॉजीटिव, जिला मंडी में 9785 टेस्ट किए गए, जिनमें 2209 पॉजीटिव, जिला शिमला में 11218 टेस्ट किए गए, जिनमें 2155 पॉजीटिव, जिला सिरमौर में 5228 टेस्ट किए गए, जिनमें 1517 पॉजीटिव, जिला सोलन में 6967 टेस्ट किए गए, जिनमें 1530 पॉजीटिव और जिला ऊना में 8562 कोविड टेस्ट किए गए, जिनमें 1133 मामले कोविड पॉजीटिव पाए गए हैं।

इसे भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेष में ब्लैक फंगस महामारी घोषित, स्वास्थ्य संस्थानों को सतर्क रहने के निर्देश

कोरोना महामारी से हुई मौतों के मामलों का विभाग द्वारा एक विश्लेषण किया गया है जिसके अनुसार 23 मई 2021 तक हिमाचल प्रदेश में कोरोना महामारी से कुल 2752 लोगों की मृत्यु हुई है, जिनमें 1684 यानी (61.2 प्रतिशत) पुरुष और 1068 (38.8 प्रतिशत) महिलाएं थीं और मृतकों की औसत आयु 61.9 वर्ष थी। 48 अस्पतालों को कोविड समर्पित अस्पतालों के रूप में चिन्हित किया है। इनमें सरकारी व निजी क्षेत्र के अस्पताल शामिल हैं। चिन्हित अस्पतालों में हजारों चिकित्सक, नर्संे, पैरामेडिकल स्टाफ सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मचारी दिन-रात कोरोना मरीजों के उपचार के लिए अपनी बहुमूल्य सेवाएं दे रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: हिमाचल में 31 मई तक बढाया गया कोरोना कर्फ्यू, मंत्रिमण्डल की बैठक में और भी बड़े निर्णय हुए

राज्य सरकार द्वारा चिन्हित कोविड समर्पित अस्पतालों में वे सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं जो कोरोना मरीजों के उपचार के लिए आवश्यक हैं। कोविड समर्पित अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर, रेमडेसिविर इन्जेक्शन, ऑक्सीजनयुक्त बिस्तर, आईसीयू बिस्तर और जीवन रक्षक दवाईयां उपलब्ध करवाई जा रही हैं। विभिन्न कोविड समर्पित अस्पतालों से अब तक लगभग एक लाख से ज्यादा मरीज स्वास्थ्य लाभ पा चुके है। मरीजों को बेहतर उपचार सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए कोविड सेवाओं के लिए चिन्हित प्रदेश के इन अस्पतालों में 5895 डी-टाईप आॅक्सीजन सिलेंडर और 1839 बी-टाईप आॅक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध हैं जबकि प्रदेश में 3989 रेमडेसिविर इन्जेक्शन भी उपलबध हैं। विभिन्न जिलों में उपलब्ध कोविड बिस्तरों की संख्या लगभग 3291 है जिनमें 264 आईसीयू बिस्तर, 2324 आॅक्सीजनयुक्त बिस्तर और 703 सामान्य बिस्तर हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।