Vaccination के लिए 15-18 साल के किशोरों का शुरू हुआ रजिस्ट्रेशन, मंडाविया बोले- बच्चे सुरक्षित, तो ही देश का भविष्य सुरक्षित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 1, 2022   21:13
Vaccination के लिए 15-18 साल के किशोरों का शुरू हुआ रजिस्ट्रेशन, मंडाविया बोले- बच्चे सुरक्षित, तो ही देश का भविष्य सुरक्षित

15 वर्ष से 18 वर्ष के लाभार्थियों के लिए टीकाकरण तीन जनवरी से शुरू हो जाएगा। किशोरों को लगने वाले टीकों और साठ साल या उससे अधिक आयु के लोगों को दिये जाने वाली एहतियाती खुराक संबंधी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा निर्देश के अनुसार 15-18 आयु वर्ग के लाभार्थियों के लिए टीके का विकल्प केवल कोवैक्सीन होगा।

नयी दिल्ली। दिल्ली में 15-18 आयु वर्ग के बच्चों के टीकाकरण के लिए पंजीकरण शनिवार से शुरू हो गया, क्योंकि यहां के केंद्रों ने तीन जनवरी से किशोरों का टीकाकरण शुरू करने की तैयारी कर ली गयी है। सूत्रों द्वारा साझा किए गए आधिकारिक दस्तावेजों के मुताबिक भारत के महापंजीयक के आंकड़ों के अनुसार इस श्रेणी में टीकाकरण कराने वाले किशोरों की संख्या 10 लाख है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हम रोज तीन लाख लोगों का टीकाकरण कर सकते हैं। मौजूदा समय में दैनिक आधार पर एक से डेढ़ लाख लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। अगर जरूरत पड़ी तो हम क्षमता बढा सकते हैं। बच्चों के टीकाकरण का जहां तक सवाल है, हमलोग 10 से 15 दिन की अवधि के भीतर उनलोगों का टीकाकरण कर सकते हैं।’’

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्विटर के माध्यम से लोगों से अनुरोध किया कि वह टीकाकरण के लिए अपने परिवारों के पात्र किशोरों का पंजीकरण कराएं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘नववर्ष के अवसर पर आज (शनिवार) से 15 वर्ष से 18 वर्ष की आयु के बच्चों के कोविड-19 रोधी टीकाकरण के लिए कोविन पोर्टल पर पंजीकरण शुरू किया जा रहा है। मेरा परिजनों से आग्रह है कि पात्र बच्चों के टीकाकरण के लिए उनका पंजीकरण कराएं।’’ 

इसे भी पढ़ें: Chai Par Sameeksha: टल सकते हैं तो टालें विधानसभा चुनाव क्योंकि जान है तो जहान है

मंत्री ने ट्वीट किया सबको टीका, मुफ्त टीका। उल्लेखनीय है कि 15 वर्ष से 18 वर्ष के लाभार्थियों के लिए टीकाकरण तीन जनवरी से शुरू हो जाएगा। किशोरों को लगने वाले टीकों और साठ साल या उससे अधिक आयु के लोगों को दिये जाने वाली एहतियाती खुराक संबंधी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा निर्देश के अनुसार 15-18 आयु वर्ग के लाभार्थियों के लिए टीके का विकल्प केवल कोवैक्सीन होगा। आधिकारिक दस्तावेजों के अनुसार, 29 दिसंबर की सुबह तक दिल्ली सरकार के पासटीकों की 21.53 लाख खुराक थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...