रोजगार और शिक्षण संस्थानों में मराठाओं को मिलेगा आरक्षण: फड़णवीस

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 19, 2018   12:54
रोजगार और शिक्षण संस्थानों में मराठाओं को मिलेगा आरक्षण: फड़णवीस

सरकार ने राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग की रिपोर्ट को मंजूर कर लिया और मराठा समुदाय को नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में आरक्षण देने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने रविवार को यह जानकारी दी।

मुंबई। सरकार ने राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग की रिपोर्ट को मंजूर कर लिया और मराठा समुदाय को नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में आरक्षण देने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने रविवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आयोग की सिफारिश के मुताबिक समुदाय को नई श्रेणी ‘सामाजिक और शैक्षिक पिछड़ा वर्ग’ के तहत आरक्षण दिया जाएगा। राजनीतिक रूप से प्रभावी मराठा समुदाय प्रदेश की कुल आबादी का करीब 30 फीसदी है।

महाराष्ट्र विधानसभा के शीत सत्र की पूर्व संध्या पर मंत्रिमंडल की बैठक के बाद उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘राज्य मंत्रिमंडल ने मराठा आरक्षण के लिये पिछड़ा वर्ग आयोग की रिपोर्ट को स्वीकार कर लिया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आरक्षण कितना होगा यह तय करने के लिये मंत्रिमंडल की उप-समिति बनाई गई है जिसे आगामी सत्र में पेश किये जाने वाले विधेयक (आरक्षण मंजूर करने संबंधी) के तकनीकी पहलुओं को देखने की जिम्मेदारी दी गई है।’’ 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।