अशोक गहलोत पर सचिन पायलट का पलटवार, कीचड़ उछालने से कुछ हासिल नहीं होगा, हमें कांग्रेस को मजबूत करना है

Sachin Pilot
ANI
अंकित सिंह । Nov 24, 2022 8:34PM
सचिन पायलट ने कहा कि अशोक गहलोत वरिष्ठ और अनुभवी नेता है। आज वो राजस्थान के मुख्यमंत्री हैं। लेकिन मैं नहीं जानता हूं कि उनको एडवाइज कौन करता है। उन्होंने कहा कि पहले भी अशोक गहलोत ने मेरे खिलाफ बहुत सारी बातें कही है।

राजस्थान में एक बार फिर से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच का विवाद सामने आया है। अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को एक बार फिर से गद्दार कहा है। इसको लेकर सचिन पायलट की ओर से पलटवार भी किया गया है। सचिन पायलट ने साफ तौर पर कहा है कि इतने अनुभव वाले व्यक्ति को इस तरह की भाषा शोभा नहीं देता है। मैंने ऐसा कभी नहीं किया है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि नाम लेने और कीचड़ उछालने से कुछ भी हासिल नहीं होगा। कांग्रेस के युवा नेता ने कहा कि यह भाजपा को हराने के लिए उसके खिलाफ एकजुट होकर लड़ने का तथा राहुल गांधी के हाथ को मजबूत करने का समय है। 

इसे भी पढ़ें: राजस्थान सरकार की कैबिनेट बैठक टली, राहुल की 'भारत जोड़ो यात्रा' को लेकर अशोक गहलोत ने कही ये बात

सचिन पायलट ने कहा कि अशोक गहलोत वरिष्ठ और अनुभवी नेता है। आज वो राजस्थान के मुख्यमंत्री हैं। लेकिन मैं नहीं जानता हूं कि उनको एडवाइज कौन करता है। उन्होंने कहा कि पहले भी अशोक गहलोत ने मेरे खिलाफ बहुत सारी बातें कही है। मुझे नकारा, निकम्मा और गद्दार कहा और कई आरोप भी लगाए हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह के झूठे और बेबुनियाद आरोप लगाने की जरूरत नहीं है। आज इस बात को सोचने की जरूरत है कि कांग्रेस को कैसे मजबूत करें। उन्होंने कहा कि हम सबको मिलकर भारत जोड़ो यात्रा को कामयाब बनाना है। आज देश में भाजपा को सिर्फ कांग्रेस ही चुनाव में सीधी टक्कर दे सकती है। 

इसे भी पढ़ें: गहलोत-पायलट विवाद पर बोले जयराम रमेश, कांग्रेस को मजबूत करने वाले तरीके से निकाला जाएगा हल

कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि हमें इस बात को सोचना चाहिए कि राजस्थान में कांग्रेस के दोबारा सरकार कैसे बने। उन्होंने कहा यह चुनौतीपूर्ण समय है पार्टी को एकजुट रहने का। इसके साथ ही उन्होंने साफ तौर पर कहा कि किसी भी व्यक्ति को कभी भी इतना असुरक्षित नहीं होना चाहिए। आज मैं जिस पद पर हूं, कल नहीं रह सकता हूं। हमें मल्लिकार्जुन खड़गे, प्रियंका गांधी और राहुल गांधी का हाथ मजबूत करना चाहिए। दूसरी ओर इस विवाद पर कांग्रेस के नेता जयराम रमेश ने कहा कि अशोक गहलोत अनुभवी नेता, सचिन पायलट के साथ उनके मतभेदों को इस तरह सुलझाया जाएगा कि कांग्रेस मजबूत हो।

अन्य न्यूज़