सुरक्षा कारणों से साध्वी प्राची को अलीगढ़ से रोका गया

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jun 9 2019 5:53PM
सुरक्षा कारणों से साध्वी प्राची को अलीगढ़ से रोका गया
Image Source: Google

रिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुल्हाड़ी ने कहा कि टप्पल में ऐहतियाती कदम उठाते हुए सुरक्षा बढ़ा दी गई है। उन्होंने कहा, पुलिस ने हिन्दू नेता साध्वी प्राची को रविवार को टप्पल का दौरा करने की अनुमित नहीं दी। उन्हें टप्पल के हालात के मद्देनजर सीमा पर ही रोक दिया गया।

अलीगढ़। हिन्दुत्व नेता साध्वी प्राची को रविवार को अलीगढ़ के टप्पल कस्बे का दौरा करने की अनुमित नहीं दी गई, जहां एक बच्ची की हत्या के बाद से तनाव पसरा हुआ है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी यह जानकारी दी। अधिकारी ने कहा कि पुलिस ने ढाई वर्षीय बच्ची को न्याय दिलाने की मांग कर रही भीड़ को तितर-बितर करने के लिये हल्के बल का इस्तेमाल किया। बच्ची के पिता द्वारा 10 हजार रुपये का कर्ज नहीं चुका पाने के चलते उसकी कथित रूप से गला दबाकर हत्या कर दी गई थी। 

इसे भी पढ़ें: अलीगढ़ में मासूम बच्ची की हत्या, थानाध्यक्ष समेत पांच पुलिसकर्मी निलंबित

पुलिस ने कहा कि अब तक इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुल्हाड़ी ने कहा कि टप्पल में ऐहतियाती कदम उठाते हुए सुरक्षा बढ़ा दी गई है। उन्होंने कहा,  पुलिस ने हिन्दू नेता साध्वी प्राची को रविवार को टप्पल का दौरा करने की अनुमित नहीं दी। उन्हें टप्पल के हालात के मद्देनजर सीमा पर ही रोक दिया गया। बच्ची का शव उसके लापता होने के तीन दिन बाद दो जून को कूड़े के ढेर में मिला था। बच्ची के पिता ने आरोप लगाया था कि उसकी हत्या इसलिये की गई क्योंकि वह आरोपियों को 10 हजार रुपये का कर्ज लौटाने में नाकाम रहा था।

इसे भी पढ़ें: ढाई साल की मासूम की हत्या पर फूटा देश का गुस्सा, बाल आयोग ने पुलिस से रिपोर्ट मांगी



पुलिस ने मुख्य आरोपियों जाहिद (27) के खिलाफ मामला दर्ज किया था। उसे चार जून को गिरफ्तार किया गया। जाहिद की पत्नी शगुफ्ता (32) और भाई मेहंदी हसन को आठ जून को गिरफ्तार किया गया था। इसके अलावा पुलिस ने असलम (43) को चार जून को गिरफ्तार किया था, जिसके खिलाफ 2014 और 2017 में पॉक्सो अधिनियम के तहत मामला दर्ज है। वह उत्तर प्रदेश सरकार के गुंडा अधिनियम के तहत आरोपों का भी सामना कर रहा है।

 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप