वानखेड़े की पत्नी ने सीएम उद्धव को लिखा पत्र, कहा- एक महिला की गरिमा से सरेआम हो रहा खिलवाड़

वानखेड़े की पत्नी ने सीएम उद्धव को लिखा पत्र, कहा- एक महिला की गरिमा से सरेआम हो रहा खिलवाड़

मुंबई एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े की पत्नी ने कहा कि मैंने मिलने के लिए महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे से समय मांगा है। मुझे अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है, मैं जवाब की प्रतीक्षा कर रही हूं।

एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति रेडकर वानखेड़े ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखा है। अपने पत्र में क्रांति रेडकर ने कहा कि हमें हर दिन लोगों के सामने अपमानित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज के राज्य में एक महिला की गरिमा के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। अगर बाला साहब आज होते तो उन्हें यह सब पसंद नहीं आता। अपने पत्र में उन्होंने लिखा कि विश्वास है कि आप के रहते अन्याय नहीं होगा। विनती है कि सीएम उद्धव न्याय करें। निजी जीवन पर हमला करने वालों से लड़ रही हूं। एक महिला पर निजी हमले करना निचले स्तर की राजनीति है। आपकी ओर से अपेक्षा से देख रही हूं।

मुंबई एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े की पत्नी ने कहा कि मैंने मिलने के लिए महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे से समय मांगा है। मुझे अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है, मैं जवाब की प्रतीक्षा कर रही हूं। इससे पहले क्रांति रेडकर ने मंगलवार को अपने पति का समर्थन किया और वानखेड़े के खिलाफ महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक लगाये गए आरोपों को खारिज किया। रेडकर ने साथ ही कहा कि परिवार को धमकी भरे फोन आ रहे हैं, उन्हें ऑनलाइन ट्रोल किया जा रहा है और वे भय में जी रहे हैं। वानखेड़े की पत्नी एवं अभिनेत्री क्रांति रेडकर ने उपनगरीय अंधेरी में मीडिया से बात करते हुए अपने पति को एक ईमानदार सरकारी अधिकारी बताया और मुंबई क्रूज मादक पदार्थ मामले में एनसीबी के एक गवाह द्वारा जबरन वसूली के प्रयास के किये गए दावे का खंडन किया। 

इसे भी पढ़ें: एक बार फिर आर्यन खान के समर्थन में आये ऋतिक रोशन, कानूनी सलाह को लेकर शेयर किया वीडियो

इस मामले की निगरानी वानखेड़े द्वारा की जा रही है। बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान मामले के सिलसिले में गिरफ्तार किए गए 20 लोगों में शामिल हैं। यह मामला इस महीने की शुरुआत में मुंबई तट के पास से एक क्रूज जहाज से मादक पदार्थ की कथित जब्ती से संबंधित है। रेडकर ने दावा किया कि एक वर्ग उनके पति के खिलाफ काम कर रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘मेरे पति एक ईमानदार अधिकारी हैं और पिछले 15 वर्षों से ईमानदारी से अपना कर्तव्य निभा रहे हैं। समीर किसी राजनीतिक दल से नहीं जुड़े हैं, वह केंद्र सरकार के एक कर्मचारी हैं और अपना काम कर रहे हैं, कुछ लोगों को उनके काम से समस्या हो रही है जिसके चलते सब कुछ (वानखेड़े के खिलाफ आरोपों से संबंधित विवाद) हो रहा है।’’





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।