शिवसेना सांसद संजय राउत से ED ने की 10 घंटे तक पूछताछ, बोले- मैंने पूरा सहयोग किया

Sanjay Raut
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
अनुराग गुप्ता । Jul 01, 2022 10:59PM
शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि हमारे मन में कोई शंका हो तो केंद्रीय एजेंसियों के सामने जाना हमारा कर्तव्य है ताकि लोगों के मन में हमारे बारे में कोई शंका न हो। हमसे 10 घंटे तक पूछताछ की गई। उन्होंने कहा कि मैंने पूरा सहयोग किया है और उनको जो जानकारी चाहिए थी वो मैंने दिया है।

मुंबई। शिवसेना सांसद एवं नेता संजय राउत से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार को कथित धन शोधन मामले के संबंध में पूछताछ की। इस दौरान ईडी अधिकारियों ने 10 घंटे तक संजय राउत से सवाल-जवाब किया और फिर संजय राउत जब ईडी कार्यालय से बाहर निकले तो उन्होंने दावा किया कि मैंने ईडी अधिकारियों का पूरा सहयोग किया है।

इसे भी पढ़ें: कुछ इस अंदाज में ED ऑफिस पहुंचे संजय राउत, कहा- मैं निर्भय आदमी हूं, एक तटस्थ एजेंसी में जा रहा 

ED का किया पूरा सहयोग

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि हमारे मन में कोई शंका हो तो केंद्रीय एजेंसियों के सामने जाना हमारा कर्तव्य है ताकि लोगों के मन में हमारे बारे में कोई शंका न हो। हमसे 10 घंटे तक पूछताछ की गई। उन्होंने कहा कि मैंने पूरा सहयोग किया है और उनको जो जानकारी चाहिए थी वो मैंने दिया है। इसके साथ ही संजय राउत ने कहा कि मैं जांच एजेंसियों का सहयोग करना जारी रखूंगा।

इससे पहले उन्होंने कहा था कि मैं आज दोपहर 12 बजे ईडी के समक्ष पेश होऊंगा। मुझे जारी किए गए सम्मन का मैं सम्मान करता हूं और जांच एजेंसियों के साथ सहयोग करना मेरा कर्तव्य है। मैं शिवसेना कार्यकर्ताओं से ईडी कार्यालय में एकत्रित नहीं होने की अपील करता हूं। चिंता मत करिए।

इसे भी पढ़ें: एकनाथ के CM बनने पर बोले संजय राउत, मैं शिंदे को शिव सैनिक नहीं मानता, ED के सामने पेश होने से पहले की ये अपील 

ED ने बदली थी सम्मन की तारीख 

ईडी ने संजय राउत को 28 जून को सम्मन भेजा था लेकिन उनके वकील ने जांच एजेंसी से पेश होने के लिए कुछ और वक्त मांगा था। वकील ने हवाला दिया था कि संजय राउत को उस दिन रायगड़ जिले के अलीबाग में एक बैठक में शामिल होना है। जिसके बाद ईडी ने नया सम्मन जारी करते हुए उन्हें शुक्रवार को पेश होने के लिए कहा था।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़