वायु प्रदूषण को लेकर केंद्र और केजरीवाल सरकार को SC का अल्टीमेटम, दिया 24 घंटे का समय

वायु प्रदूषण को लेकर केंद्र और केजरीवाल सरकार को SC का अल्टीमेटम, दिया 24 घंटे का समय

उच्चतम न्यायालय ने वायु प्रदूषण मामले की सुनवाई करते हुए केंद्र और केजरीवाल सरकार को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है। अदालत ने सरकार द्वारा पिछले कुछ सप्ताहों में किए गए उपायों पर असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि हमें लगता है कि कुछ नहीं हो रहा है और प्रदूषण बढ़ता जा रहा है।

नयी दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने वायु प्रदूषण को लेकर गुरुवार को दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार को जमकर फटकार लगाई। इस दौरान अदालत ने केजरीवाल सरकार से पूछा कि दिल्ली में स्कूल क्यों खुले हैं ? अदालत ने कहा कि हम औद्योगिक और वाहनों के प्रदूषण को लेकर गंभीर हैं। आप हमारे कंधों से गोलियां नहीं चला सकते, आपको कदम उठाने होंगे। स्कूल क्यों खुले हैं ? दरअसल, दिल्ली में हवा की गुणवत्ता बहुत खराब श्रेणी में बनी हुई है। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में फिर बदतर हुआ वायु प्रदूषण, AQI खराब श्रेणी में बरकरार

केंद्र और दिल्ली सरकार को मिला 24 घंटे का अल्टीमेटम 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, उच्चतम न्यायालय ने वायु प्रदूषण मामले की सुनवाई करते हुए केंद्र और केजरीवाल सरकार को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है। अदालत ने सरकार द्वारा पिछले कुछ सप्ताहों में किए गए उपायों पर असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि हमें लगता है कि कुछ नहीं हो रहा है और प्रदूषण बढ़ता जा रहा है... केवल समय बर्बाद हो रहा है।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में फिर बढ़ा वायु प्रदूषण, मौसम की प्रतिकूल परिस्थितियां बड़ा कारण

मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना ने सुनवाई के दौरान कहा कि दिवाली के बाद पिछले महीने दिल्ली की वायु गुणवत्ता में तेजी से गिरावट आई थी। अदालत ने केंद्र और केजरीवाल सरकार से कहा कि अगर वे प्रदूषण को नियंत्रित करने के उपाय नहीं करते हैं तो अदालत आदेश पारित करेगी। इस मामले की अगली सुनवाई शुक्रवार को सुबह 10 बजे होगी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...