वाराणसी में कोरोना वायरस की दूसरी लहर हुई खतरनाक, विकास कार्यों पर लगा ब्रेक

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 26, 2021   16:44
वाराणसी में कोरोना वायरस की दूसरी लहर हुई खतरनाक, विकास कार्यों पर लगा ब्रेक

कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से विकास कार्य के रफ्तार पर पूरी तरह ब्रेक लग गया है। कोविड -19 संक्रमण की दूसरी लहर आने से पूर्व बहुतायत कार्यों को अप्रैल के अंतिम पखवारे तक पूर्ण करने का दावा किया गया था।

कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से विकास कार्य के रफ्तार पर पूरी तरह ब्रेक लग गया है। कोविड -19 संक्रमण की दूसरी लहर आने से पूर्व बहुतायत कार्यों को अप्रैल के अंतिम पखवारे तक पूर्ण करने का दावा किया गया था। कोरोना वायरस के दूसरी लहर आने से पूर्व बहुतायत कार्यों व विकास कार्यों के रफ्तार पर पूरी तरह ब्रेक लग गया है। जिसकी मई में भव्य उद्घाटन की तैयारी थी लेकिन अब सब धरी की धरी रह गई। 

इसे भी पढ़ें: ममता ने मद्रास उच्च न्यायालय के फैसले का स्वागत किया, केंद्रीय बलों को हटाने की मांग की 

कार्यदायी एजेंन्सी सेतु निगम की ओर से आशापुर आरओबी, लहरतारा फ्लाईओवर समेत कई परियोजनाओ को पूर्ण करने की तैयारी थी लेकिन मजदूरो के पलायन करने के कारण विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इस समय संक्रमण से बचाव व स्वस्थ रहना पहली प्रथामिकता है। जान है तो जहान है। जब सब कुछ सामान्य होगा तो कार्य पर ध्यान दिया जाएगा। आधे से अधिक विभाग के अधिकारी व कर्मचारी बीमार हैं। जो ठीक हैं वो प्रशासनिक व पंचायत चुनाव कराने में जुटे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।