मेरठ में दो बच्चों की हत्या से क्षेत्र में सनसनी

मेरठ में दो बच्चों की हत्या से क्षेत्र में सनसनी

किठौर थानाक्षेत्र के कस्बा शाहजहांपुर से ई-रिक्शा लेकर घूमने निकले दो बालकों की बदमाशों ने ई-रिक्शा लूटकर हथियारों से वार कर हत्या कर दी और शव को जंगल में फेंककर फरार हो गए।

मेरठ,किठौर थानाक्षेत्र के कस्बा शाहजहांपुर से ई-रिक्शा लेकर घूमने निकले दो बालकों की बदमाशों ने ई-रिक्शा लूटकर हथियारों से वार कर हत्या कर दी और शव को जंगल में फेंककर फरार हो गए। ग्रामीणों को जंगल मे दो स्थानों पर दोनों बालकों के शव मिले। दोनों शव की पहचान शाहजहांपुर निवासी अमन और सादिक के रूप में हुई। घटना की सूचना पर एसएसपी ,एसपी देहात,सीओ फोर्स के साथ व फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंची।

किठौर थाना क्षेत्र के शाहजहांपुर निवासी सादिक (14) पुत्र जाने आलम और अमन ( 13) पुत्र महराज शनिवार शाम 5:30 बजे घर में  खड़ी ई-रिक्शा को लेकर घूमने निकले थे। उसके बाद दोनों किशोर अपने घर नहीं पहुंचे। परिजनों ने काफी तलाश की, लेकिन सुराग नहीं मिला। रविवार सुबह फतेहपुर नारायण गांव के जंगल में शिवकुमार और रामरतन के खेतों में दोनों किशोर का शव मिले । सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर दौड़ी। एसएसपी प्रभाकर चौधरी, एसपी देहात केशव कुमार और सीओ किठौर मौके पर पहुंचे। दोनों किशोर की चाकू या किसी धारदार हथियारों से गोदकर हत्या की गई और ई-रिक्शा गायब था। आशंका जताई गई कि ई-रिक्शा लूट के लिए हत्या की गई है। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।घटनास्थल को देखकर लगता है कि पहले दोनों बच्चों को बुरी तरह से पीटा गया है और इसके बाद चाकू और नुकीले हथियार से हमला करके मार डाला गया। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। सबूत जुटाने के लिए मौके पर फॉरेंसिक टीम भी पहुंच गई है।

सादिक व अमन की हत्या के बाद परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल था। सादिक का पिता मजदूरी करता है, जबकि अमन का पिता गैस एजेंसी पर काम करता है। अमन का एक दूसरा भाई है, जो बीमार रहता है। तनाव को देखते हुए शाहजहांपुर में भी पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।