दिल्ली में कोरोना प्रसार के विश्लेषण के लिए सीरोलॉजिकल सर्वेक्षण शुरू, 20 हजार लोगों के लिए जाएंगे नमूने

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 27, 2020   21:51
दिल्ली में कोरोना प्रसार के विश्लेषण के लिए सीरोलॉजिकल सर्वेक्षण शुरू,  20 हजार लोगों के लिए जाएंगे नमूने

उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के खिलाफ लड़ाई में आज से सीरो जांच की शुरुआत की गई है। इसके तहत पूरी दिल्ली से 20 हजार लोगों के नमूने लिये जाएंगे।

नयी दिल्ली। दिल्ली में संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच कोविड-19 के प्रसार के व्यापक विश्लेषण के लिये शहर के कुछ इलाकों में शनिवार को सीरोलॉजिकल सर्वेक्षण शुरू किया गया केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि सर्वेक्षण के तहत एंडीबॉडीज की मौजूदगी का पता लगाने के लिये 20,000 लोगों के खून के नमूनों की जांच की जाएगी। यह कवायद राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र और दिल्ली सरकार द्वारा मिलकर 10 जुलाई तक चलाई जाएगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक ऑनलाइन ब्रीफिंग में कहा, “सीरोलॉजिकल सर्वेक्षण शनिवार से शुरू हो गया है और इसके दायरे में 20,000 लोग आएंगे। यह सर्वेक्षण घर-घर जाकर किया जा रहा है और इससे दिल्ली में कोरोना वायरस के प्रसार का स्तर पता चलेगा।” उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी ऐसे ही विचार व्यक्त किये। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले 80 हजार के पार, अबतक 2,558 मरीजों की मौत 

उन्होंने ट्वीट कर रहा, “दिल्ली में कोरोना के खिलाफ लड़ाई में आज से सीरो जांच की शुरुआत की गई है। इसके तहत पूरी दिल्ली से 20 हजार लोगों के नमूने लिये जाएंगे। ये जांच कोरोना के खिलाफ दिल्ली सरकार की मुहिम में बेहद कारगर साबित होगी।” अधिकारियों ने कहा कि यह सर्वेक्षण मध्य जिला में शनिवार को शुरू हुआ और जनता की प्रतिक्रिया अच्छी है। उन्होंने बताया कि पहले दिन करीब 450 नमूने लिये गए। उन्होंने बताया कि पहले दिन 700 नमूने लेने का लक्ष्य था और कुछ जांच दल अभी लौटे नहीं हैं। जिले में आशा कर्मियों और प्रयोगशाला तकनीशियनों की 30 टीमों को नमूने लेने के काम पर लगाया गया है।

उत्तर जिला के एक अधिकारी ने बताया कि उत्तरी दिल्ली के केवल पार्क इलाके में भी सर्वेक्षण का काम शुरू हुआ है। उन्होंने कहा कि आज क्योंकि पहला दिन था इसलिये जोर टीमों को इलाकों में साजो-सामान के साथ भेजने पर था। अगले दो-तीन दिनों में लोगों की प्रतिक्रिया सामने आएगी। उन्होंने कहा कि सर्वे के काम के लिये नौ दलों को लगाया गया है। एक अधिकारी ने कहा कि दक्षिणपश्चिम जिला में कुछ इलाकों में नमूना लेने का काम शुरू हुआ है लेकिन पूरी तरह से काम रविवार से शुरू होगा। 

इसे भी पढ़ें: अमित शाह ने 10 हजार बिस्तरों वाले कोविड केयर सेंटर का किया दौरा, CM केजरीवाल भी मौजूद थे 

पूर्वी जिले के एक अधिकारी के मुताबिक, एनसीडीसी तकनीशियनों को नमूने लेने की प्रक्रिया के बारे में समझाएगा और उसके बाद सोमवार से उनके काम शुरू करने की उम्मीद है। इसी तरह दक्षिणपूर्वी जिला में शनिवार को सर्वेक्षण का काम शुरू नहीं हुआ क्योंकि साजो-सामान और उपकरणों पर काम हो रहा था। उत्तर पूर्वी जिला के एक अधिकारी ने कहा कि सर्वेक्षण सोमवार से शुरू होगा। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा नीति आयोग के सदस्य वी के पॉल की समिति की अनुशंसा पर तैयार की गई नयी कोविड-19 प्रतिक्रिया योजना के तहत यह सीरोलॉजिकल सर्वे कराया जा रहा है। यह समिति केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग के तहत आती है। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।