राजस्थान में शुरू हुई कड़ाके की ठंड, खेतों में लगातार गिर रही ओस, इस शहर में पारा 6 डिग्री से नीचे पहुंचा

cold
ANI
अंकित सिंह । Nov 22, 2022 4:29PM
बीते दिनों राजस्थान में पारा 5 डिग्री नीचे गिर गया। मौसम विभाग की माने तो उत्तर पश्चिम राजस्थान के कई कस्बों में लगातार ठंड हवाएं चल सकती हैं। इसका सबसे बड़ा असर यह होगा कि राजस्थानी इलाकों में भी लोगों को ठंड का सामना करना पड़ेगा।

राजस्थान में ठंड की शुरुआत हो चुकी है। कई शहरों में तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है। लोगों को भी पहले की तुलना में ज्यादा ठंड का सामना करना पड़ रहा है। जयपुर और माउंट आबू में मॉर्निंग वॉक के लिए निकलने वाले लोग भी ठंड से कांपने लगे हैं। गर्म कपड़े पहनने का भी सिलसिला अब शुरू हो गया है। धूप निकलने के साथ ही लोग अपने घरों से बाहर आ रहे हैं। बीते दिनों राजस्थान में पारा 5 डिग्री नीचे गिर गया। मौसम विभाग की माने तो उत्तर पश्चिम राजस्थान के कई कस्बों में लगातार ठंड हवाएं चल सकती हैं। इसका सबसे बड़ा असर यह होगा कि राजस्थानी इलाकों में भी लोगों को ठंड का सामना करना पड़ेगा। 

इसे भी पढ़ें: इस विंटर वेडिंग बॉलीवुड डीवाज की तरह करें खुद को स्टाइल

बीती रात उदयपुर, जोधपुर, जैसलमेर, अजमेर समेत कई शहरों में तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। फतेहपुर में भी तो पारा 5 डिग्री के आसपास पहुंच गया। जमीन पर ओस की बूंदे भी दिखाई देने लगी। आने वाले चार-पांच दिनों में प्रदेश में ऐसा मौसम बना रहेगा और तापमान में गिरावट और देखे जा सकते हैं। प्रदेश में मौसम के मिजाज की बात करें तो यह लगातार बदलता रह रहा है। जालौर, जोधपुर, जैसलमेर, बाड़मेर में भी तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। अलवर में भी ठंड में बढ़ोतरी देखी गई है। जबकि बीती रात प्रदेश में सबसे कम तापमान सीकर के फतेहपुर में रिकॉर्ड किया गया। सीजन में पहली बार तापमान 6 डिग्री सेल्सियस से नीचे गिरा।

इसे भी पढ़ें: जाड़े की मांग, कम आपूर्ति से सरसों, सोयाबीन सहित सभी तेल-तिलहन कीमतों में सुधार

वहीं, दिल्ली में सोमवार को न्यूनतम तापमान 8.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से तीन डिग्री कम है।आईएमडी के मुताबिक 8.9 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ सोमवार को इस मौसम की अब तक की सबसे ठंडी सुबह दर्ज की गई। दिल्ली में शनिवार के न्यूनतम 9 डिग्री सेल्सियस से भी कम तापमान सोमवार को रहा, जो कि उस दिन इस सर्दी का निचला स्तर था। दिल्ली में 24 घंटे का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (310) दर्ज किया गया जो बहुत खराब श्रेणी में आता है। उल्लेखनीय है कि 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच एक्यूआई ‘गंभीर’ माना जाता है।

अन्य न्यूज़