नेता अधिकारी व संपन्न लोग भ्रष्टाचार को बढावा देकर समाजिक तानेबाने को तोड रहे: शान्ता कुमार

नेता अधिकारी व संपन्न लोग भ्रष्टाचार को बढावा देकर समाजिक तानेबाने को तोड रहे: शान्ता कुमार

उन्होंने याद दिलाया कि पकडे जाने के बाद राज कुन्द्रा को लेकर पुलिस छानबीन के लिए उनके घर पहुंची तो उनकी धर्मपत्नी शिल्पा शेट्टी ने सबके सामने अपने पति को कहा हमारे पास सब कुछ है फिर यह सब करने की क्या जरूरत थी। परिवार का नाम खराब हुआ।

पालमपुर। वरिष्ठ भाजपा नेता हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शान्ता कुमार ने कहा है कि देश में बड़े व साधन संपन्न लोग अनैतिकता के जरिये पैसा कमाने की होड़ में समाज में गंदगी फैला रहे हैं। ऐसे लोगों की पैसे की भूख कई सामाजिक कुरितियों को जन्म दे रही है। शांता कुमार ने कहा कि यह देश का दुर्भाग्य है कि अधिकतर भ्रश्टाचार बड़े सम्पन्न लोग अधिकारी और नेता ही करते है। गरीब सब कुछ सहता है। परन्तु भगवान और सरकार दोंनो से डरता है तथाकथित बड़े लोग न भगवान से डरते है और न सरकार से डरते है। देश में भ्रश्टाचार भयंकर रूप धारण कर चुका है। बहुत कम लोग पकड़े जाते है और उन में भी बहुत कम लोगो को सजा होती है। चूंकि हमारी न्याय प्रणाली भी पैसे वालों की मदद करती है ऐसे लोगों को रोकने के लिये समाज को आगे आना होगा नहीं तो इसके भयंकर परिणाम हम भुगतेंगे । यह लोग चाहें तो समाज को नई दिशा दे सकते है। लोग इनसे प्रेरणा ले सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: हिमाचल की खबरें: स्वास्थ्य अधोसंरचना की मजबूती के लिए 24110.40 लाख रुपए का बजट प्रस्तावित

उन्होंने हाल ही में सिने स्टार शिल्पा शेट्टी के पति राज कुन्द्रा के पकड़े जाने की घटना का उल्लेख करते हुये कहा कि पैसे की भूख ने आज उनके परिवार को कहां लाकर खडा कर दिया है। उन्होंने याद दिलाया कि पकडे जाने के बाद राज कुन्द्रा को लेकर पुलिस छानबीन के लिए उनके घर पहुंची तो उनकी धर्मपत्नी शिल्पा शेट्टी ने सबके सामने अपने पति को कहा हमारे पास सब कुछ है फिर यह सब करने की क्या जरूरत थी। परिवार का नाम खराब हुआ। मेरे हाथ से कई प्रोजेक्ट चले गये। उन्होंने कहा कि यदि शिल्पा शेट्टी को सचमुच अपने पति के कारनामों का कोई पता नहीं था तो इन शब्दो में व्यक्त उसकी व्यथा एक भारतीय नारी की आवाज़ है। भारतीय नारी मूलरूप से ममता व ईमानदारी की प्रतिमूर्ति है। यदि उसे सब पता था तो अब शायद अब अकल आई होगी।

इसे भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश में आई तबाही पर बोले कांग्रेस नेता, इसे रोका जा सकता था

शांता कुमार ने कहा कि शिल्पा शेट्टी के यह शब्द कितने महत्वपूर्ण है कि हमारे पास सब कुछ है फिर यह सब कुछ क्यों किया। देश में सबसे अधिक भ्रश्टाचार करने वालों के पास भी सब कुछ होता है। अब धन का लालच नहीं धन का पागलपन सवार है कुछ लोगों पर। शान्ता कुमार ने कहा मैं लगभग 33 वर्ष विधायक व सांसद रहा। इतनी सुविधाएं और वेतन मिलता है कि आज सब प्रकार से सम्पन्न हूं। पैंशन इतनी मिलती है कि मुझे बहुत अधिक लगती है। सच कहता हूं जिस देश में 19 करोड़ लोग रात को भूखे पेट सोने पर विवश है उस देश के नेताओं और अधिकारियों को इतनी सुविधाएं वेतन और पेंशन नहीं मिलनी चाहिए। इसीलिए मैं बहुत सा धन गरीब और समाज सेवा में लगा देता हूं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।