शौर्य स्थल अध्यक्ष तरुण विजय का 'सीमांत जवानों को राखियां' अभियान, राजनाथ सिंह को सौंपी गई छात्राओं द्वारा तैयार की गई राखियां

Tarun Vijay
PR
राजनाथ सिंह ने इस अभियान की प्रशंसा करते हुए कहा कि प्रत्येक राखी वीर सैनिकों के लिए देशवासियों के प्रेम और सम्मान का प्रतीक है और वे इन राखियों को सेना के तीनों अध्यक्षों को प्रदान करेंगे ताकि थल जल और वायु सैनिकों तक यह राखियाँ पहुँचे।

आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को उत्तराखंड, तमिलनाडु और दिल्ली की छात्राओं द्वारा हस्तनिर्मित दो लाख राखियाँ शौर्य स्थल अध्यक्ष तरुण विजय द्वारा ससम्मान भेंट की गयीं। राजनाथ सिंह ने इस अभियान की प्रशंसा करते हुए कहा कि प्रत्येक राखी वीर सैनिकों के लिए देशवासियों के प्रेम और सम्मान का प्रतीक है और वे इन राखियों को सेना के तीनों अध्यक्षों को प्रदान करेंगे ताकि थल जल और वायु सैनिकों तक यह राखियाँ पहुँचे।

इसे भी पढ़ें: मीडिया जायंट नवरोज प्रासला को राष्ट्रपति जो बाइडन प्रशासन के प्रेसिडेंशियल लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से किया गया सम्मानित

देहरादून से केंद्रीय विद्यालय की विभिन्न इकाइयों ने आयुक्त मीनाक्षी जैन के मार्गदर्शन में इन राखियों को बनाया। आईटीआईटीआई दून संस्कृति विद्यालय के जनजातीय छात्रों ने संथाली जनजातीय राखियाँ बना कर राष्ट्रपति के प्रति सम्मान प्रकट किया। तमिलनाडु से डॉक्टर राम सुब्रमण्यम देहरादून से कुमारी शांभवी दिल्ली से राजकुमार भाटिया ने राखियाँ अर्पित कीं। स्व जनरल बिपिन रावत जी के संरक्षण में ‘सैनिकों के लिए राखियाँ ‘ अभियान छः वर्ष पूर्व आरम्भ किया गया था। इसके साथ ही प्रसिद्ध गीतकार मनोज मुंतशिर इस अवसर पर विशेष रूप से उपस्थित थे। उन्होंने अपना लोकप्रिय गीत- मिट्टी में मिल जावां… गाकर सबको आह्लादित कर दिया।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़