शिवराज का कमलनाथ पर तंज, अपनी सरकार बचाने में नाकाम अब महाराष्ट्र सरकार बचाने की कोशिश कर रहे

Shivraj singh chauhan
ANI
महाराष्ट्र सरकार के मंत्री एकनाथ शिंदे की अगुवाई में शिवसेना के कई विधायकों द्वारा बगावत किए जाने के बाद राज्य में एमवीए सरकार संकट में आ गई है। कांग्रेस एवं (राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी)राकांपा भी इस सरकार का हिस्सा हैं।
भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महाराष्ट्र में राजनीतिक संकट के मद्देनजर पर्यवेक्षक के रूप में नियुक्त किए गए कांग्रेस नेता कमलनाथ पर तंज कसते हुए कहा है कि मध्यप्रदेश में अपनी ही सरकार को बचाने में नाकाम रहा कोई व्यक्ति (कमलनाथ) अब महाराष्ट्र की शिवसेना के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार को बचाने की कोशिश कर रहा है। गौरतलब है कि महाराष्ट्र सरकार के मंत्री एकनाथ शिंदे की अगुवाई में शिवसेना के कई विधायकों द्वारा बगावत किए जाने के बाद राज्य में एमवीए सरकार संकट में आ गई है। कांग्रेस एवं (राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी)राकांपा भी इस सरकार का हिस्सा हैं। 

इसे भी पढ़ें: आदिवासी कपड़े पहनकर और धनुष लेकर अलग अंदाज में दिखे CM शिवराज, आदिवासियों संग किया डांस

चौहान ने उज्जैन में भाजपा के महापौर एवं पार्षद प्रत्याशियों के समर्थन में निकाली गई चुनावी रैली को बुधवार शाम को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘अब महाराष्ट्र निकल गए कमलनाथ। महाराष्ट्र भी काहे के लिए भेजा? सरकार बचा लो महाराष्ट्र की।’’ उन्होंने आगे कहा, ‘‘अरे, जो (कमलनाथ) अपनी मध्यप्रदेश में सरकार नहीं बचा पाया, वो महाराष्ट्र की सरकार बचाने जाएगा..? ये अजब गजब कांग्रेस है भइया।’’ चौहान ने कहा, ‘‘ये कांग्रेस कभी आप का भला कर सकती है क्या? ये भला नहीं करेगी, ये तो अंतिम सांसे गिन रही है।’’ मालूम हो कि मार्च 2020 में मध्यप्रदेश में कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार अपनी ही पार्टी के 22 विधायकों के बागी होने के कारण गिर गई थी और यहां पर भाजपा फिर सत्ता में आ गई।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़