दिल्ली में भी Omicron की दस्तक? जोखिम वाले देश से लौटे छह और अंतरराष्ट्रीय यात्री कोविड से संक्रमित पाए गए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 3, 2021   09:01
दिल्ली में भी Omicron की दस्तक? जोखिम वाले देश से लौटे छह और अंतरराष्ट्रीय यात्री कोविड से संक्रमित पाए गए

इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर “जोखिम वाले” देशों से पहुंचे छह और यात्री बृहस्पतिवार को जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। इनमें से एक यात्री हाल में दक्षिण अफ्रीका की यात्रा भी कर चुका है।

नयी दिल्ली। इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर “जोखिम वाले” देशों से पहुंचे छह और यात्री बृहस्पतिवार को जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। इनमें से एक यात्री हाल में दक्षिण अफ्रीका की यात्रा भी कर चुका है। एक अधिकारी ने बताया कि बीती रात लगभग 12 बजे एयर फ्रांस की उड़ान से आए 243 लोगों में से तीन जांच में संक्रमित पाए गए। अधिकारी ने बताया कि लंदन से आए दो लोग भी कोविड से संक्रमित पाए गए हैं। अधिकारी के मुताबिक, एक अन्य मुसाफिर दक्षिण अफ्रीका के जोहानिस्बर्ग में करीब हफ्ते भर रहा और तंजानिया से दोहा गया और फिर वहां से दिल्ली आया।

इसे भी पढ़ें: मानवीय आधार पर अफगानिस्तान को गेहूं भेजने के भारत के प्रस्ताव को पाक ने ठुकराया : रिपोर्ट

यह यात्री भी संक्रमित पाया गया है। वायरस का नया स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में ही सामने आया है। इन छह यात्रियों के नमूनों को राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र के पास यह पता करने के लिए भेजा गया है कि क्या यह संक्रमण कोरोना वायरस के नये स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ का है या नहीं। वायरस के इस स्वरूप को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ‘चिंताजनक प्रकार’ घोषित किया है।

इसे भी पढ़ें: भारत जब भी संयम दिखाता है तो पाकिस्तान उसे कमजोरी समझता है: मनीष तिवारी

मंगलवार की रात से देश में अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए कड़े नियम लागू होने के बाद से “जोखिम वाले” देशों से आए अब तक कुल 10 लोग जांच में संक्रमित पाए गए हैं। इन सभी संक्रमितों को लोक नायक अस्पताल में भर्ती किया गया है जहां ऐसे मरीजों के उपचार के वास्ते एक अलग वार्ड बनाया गया है। केंद्र के अनुसार, जोखिम वाले देशों में ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बॉब्वे, सिंगापुर, हांगकांग और इजराइल आदि हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।