मोदी ने संसद सदस्यों को दिया रात्रिभोज, नहीं पहुंचे सोनिया, राहुल और अखिलेश

sonia-rahul-and-akhilesh-did-not-arrive-at-dinner-given-to-mps-by-modi
इनमें द्रमुक की कनिमोई, आप के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह, भाजपा में शामिल हुये तेदेपा के चार में से तीन राज्यसभा सदस्य वाई एस चौधरी, सी एम रमेश और टी जी वेंकटेश भी शामिल थे।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बृहस्पतिवार को लोकसभा और राज्यसभा के सदस्यों के लिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित एक पांच सितारा होटल में रात्रिभोज का आयोजन किया। इस रात्रिभोज में सोनिया गांधी, राहुल गांधी और अखिलेश यादव जैसे प्रमुख विपक्षी नेता अनुपस्थित रहे। तृणमूल कांग्रेस, माकपा एवं भाकपा जैसे वामदल, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और राजद के सांसद भी रात्रिभोज में अनुपस्थित रहे। रात्रिभोज के लिये संसदीय कार्य मंत्रालय की ओर से दोनों सदनों के 750 से अधिक सदस्यों को आमंत्रण भेजा गया था। पांच सितारा होटल में आयोजित इस आाधिकारिक रात्रिभोज में केवल शाकाहारी पकवान परोसे गये। होटल अशोक में आयोजित रात्रिभोज में राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद के अलावा राजग के विभिन्न नेता भी शामिल हुये। 

इनमें द्रमुक की कनिमोई, आप के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह, भाजपा में शामिल हुये तेदेपा के चार में से तीन राज्यसभा सदस्य वाई एस चौधरी, सी एम रमेश और टी जी वेंकटेश भी शामिल थे। सूत्रों के अनुसार रात्रिभोज का आयोजन इसलिए किया गया था ताकि प्रधानमंत्री और केंद्रीय मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्य दोनों सदनों के सभी सदस्यों से एक अनौपचारिक माहौल में मिल सकें। भाजपा नेता राजीव प्रताप रूडी ने कहा, ‘‘सांसदों ने प्रधानमंत्री के साथ एक बहुत अनौपचारिक माहौल में संवाद किया और वे उनके साथ सेल्फी लेते हुए देखे गए।’’ उन्होंने कहा कि माहौल बहुत सौहार्द्रपूर्ण था।

इसे भी पढ़ें: दुनियाभर में मनाया जा रहा योग दिवस, मोदी बोले- धर्म और जाति से ऊपर है योग

सूत्र ने कहा कि जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री ने इस दौरान पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन द्वारा निभायी गई भूमिका की प्रशंसा की। संसद का सत्र शुरु होने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को आहूत सर्वदलीय बैठक में नेताओं से कहा था कि जनहित के मुद्दों पर विचार विमर्श के लिए राजनीतिक मतभेदों को दरकिनार किया जा सकता है। बाद में प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया कि रात्रिभोज पर साथी सांसदों के साथ उनकी शाम ‘‘शानदार’’ रही। उन्होंने कहा, ‘‘पार्टी लाइन को छोड़ते हुए, हमने इस कार्यक्रम के जरिये बहुत अच्छी बातचीत की।’’ मोदी ने इस कार्यक्रम की तस्वीरें भी साझा कीं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़