मध्यप्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की शिक्षा एवं रोजगार के लिए होंगे विशेष प्रयास: प्रो. केजी सुरेश

मध्यप्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की शिक्षा एवं रोजगार के लिए होंगे विशेष प्रयास: प्रो. केजी सुरेश

कुलपति प्रो. केजी सुरेश ने कहा कि मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर एमईएससी के साथ हुए एमओयू के माध्यम से हम पत्रकारिता एवं संचार के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों से विद्यार्थियों को जोड़ने का प्रयास करेंगे। इस एमओयू का उद्देश्य मीडिया शिक्षा को और अधिक उन्नत करना है।

भोपाल। पत्रकारिता एवं संचार के क्षेत्र में पाठ्यक्रम अद्यतन, कौशल विकास और विद्यार्थियों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय और मीडिया एंड इंटरटेनमेंट स्किल काउंसिल नईदिल्ली (एमईएससी) के मध्य एमओयू हुआ है। एमसीयू के कुलपति प्रो. केजी सुरेश और एमईएससी के सीईओ मोहित सोनी ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए। कुलपति प्रो. सुरेश ने कहा कि इस एमओयू का लाभ विश्वविद्यालय और उससे सम्बद्ध अध्ययन संस्थाओं के विद्यार्थियों को मिलेगा। 

इसे भी पढ़ें: IIMC के 'शुक्रवार संवाद' में निवेदिता भिड़े ने कहा, उदीयमान भारत के लिए आगे आएं युवा 

कुलपति प्रो. केजी सुरेश ने कहा कि मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर एमईएससी के साथ हुए एमओयू के माध्यम से हम पत्रकारिता एवं संचार के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों से विद्यार्थियों को जोड़ने का प्रयास करेंगे। इस एमओयू का उद्देश्य मीडिया शिक्षा को और अधिक उन्नत करना है। एमईएससी के विषय विशेषज्ञों के साथ मिलकर मीडिया के विद्यार्थियों के अनुकूल नये पाठ्यक्रम विकसित किये जायेंगे ताकि मीडिया क्षेत्र की वर्तमान और भविष्य की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए विद्यार्थियों को शिक्षित किया जाए। 

इसे भी पढ़ें: डॉ. इंदुशेखर तत्पुरुष को पं. बृजलाल द्विवेदी स्मृति अखिल भारतीय साहित्यिक पत्रकारिता सम्मान 

उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय से सम्बद्ध लगभग 1600 संस्थाओं के विद्यार्थियों के कौशल उन्नयन के लिए भी पाठ्यक्रम विकसित किये जायेंगे। मध्यप्रदेश के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यार्थी इन संस्थाओं के विद्यार्थी हैं। कुलपति प्रो. सुरेश ने कहा कि इसके साथ ही एमईएससी के माध्यम से विद्यार्थियों मीडिया से जुड़े विविध क्षेत्रों में रोजगार दिलाने के भी प्रयास होंगे। साथ ही विद्यार्थियों को उद्यमी बनाने पर भी ध्यान दिया जायेगा। इस अवसर पर एमईएससी के सीईओ मोहित सोनी ने कहा कि यह एमओयू एक मील का पत्थर साबित होगा





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।