कांग्रेस छोड़ चुके गुलाम नबी आजाद के समर्थकों ने जम्मू में बैठक की

Ghulam Nabi Azad
प्रतिरूप फोटो
ANI
कांग्रेस से 26 अगस्त को इस्तीफा देने वाले आजाद (73) का चार सितंबर को जम्मू पहुंचने का कार्यक्रम है। उन्होंने जम्मू-कश्मीर में एक नयी पार्टी बनाने की घोषणा की है। सरूरी ने पीटीआई-कहा, ‘‘आजाद के समर्थन में पार्षदों, पंचायत सदस्यों और ब्लॉक स्तर के नेताओं सहित कांग्रेस के 500 से अधिक प्रमुख नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। बैठक यह संदेश देने के लिए बुलाई गई थी कि हम सभी आजाद के साथ हैं।’’

जम्मू, 28 अगस्त। गुलाम नबी आजाद के बाद कांग्रेस से इस्तीफा देने वाले सैकड़ों नेताओं और कार्यकर्ताओं ने रविवार को यहां जम्मू कश्मीर के पूर्व मंत्री जी एम सरूरी के नेतृत्व में बैठक की। कांग्रेस से 26 अगस्त को इस्तीफा देने वाले आजाद (73) का चार सितंबर को जम्मू पहुंचने का कार्यक्रम है। उन्होंने जम्मू-कश्मीर में एक नयी पार्टी बनाने की घोषणा की है। सरूरी ने पीटीआई-कहा, ‘‘आजाद के समर्थन में पार्षदों, पंचायत सदस्यों और ब्लॉक स्तर के नेताओं सहित कांग्रेस के 500 से अधिक प्रमुख नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। बैठक यह संदेश देने के लिए बुलाई गई थी कि हम सभी आजाद के साथ हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘आगामी दिनों में, आप देश भर के नेताओं को आजाद की पार्टी के साथ आते देखेंगे। जम्मू कश्मीर में 25 नवंबर को मतदाता सूची के विशेष पुनरीक्षण के पूरा होने के बाद विधानसभा चुनाव होने की संभावना है, इसलिए आजाद का फोकस यहीं है।’’ कांग्रेस की प्रदेश इकाई के पूर्व उपाध्यक्ष सरूरी ने कहा कि नयी पार्टी सभी 90 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी और ‘‘हमें विश्वास है कि आजाद जम्मू कश्मीर के अगले मुख्यमंत्री होंगे।’’ इस बीच, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की जम्मू कश्मीर इकाई के अध्यक्ष रविंदर रैना ने कहा कि उनकी पार्टी अगले विधानसभा चुनाव में अपने दम पर जीत हासिल करने में सक्षम है।

उन्होंने कहा, ‘‘आजाद के इस्तीफे ने कांग्रेस नेतृत्व का पर्दाफाश कर दिया है..वह आगे क्या करने जा रहे हैं, यह उनका अपना फैसला है। अगर उन्होंने अपनी पार्टी बनाने का फैसला किया है, तो उन्हें कोई नहीं रोक सकता।’’ रैना ने कहा कि भाजपा किसी भी पार्टी के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन नहीं करेगी क्योंकि ‘‘हम अपने बल पर चुनाव जीतने में सक्षम हैं। हम 50 से अधिक सीट जीतेंगे और अगला मुख्यमंत्री भाजपा का होगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़