तरुण गोगोई की अस्थियों को पूरे असम में ले जाया जाएगा, गौरव गोगोई ने दी इसकी जानकारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 27, 2020   09:39
तरुण गोगोई की अस्थियों को पूरे असम में ले जाया जाएगा, गौरव गोगोई ने दी इसकी जानकारी

लोकसभा सदस्य गौरव गोगोई ने कहा कि उनकी लोगों से मिलने और उनकी समस्याओं को समझने के लिए अपने निर्वाचन क्षेत्र और फिर राज्य भर की यात्रा करने की तीव्र इच्छा थी, जो बीमारी के कारण वह नहीं कर पाए।

गुवाहाटी। असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई की अस्थियों को पहले तिताबोर विधानसभा क्षेत्र में, जिसका उन्होंने चार कार्यकाल तक प्रतिनिधित्व किया था, और फिर असम के अन्य हिस्सों में ले जाया जाएगा। उनके पुत्र गौरव गोगोई ने यह जानकारी दी। तरुण गोगोई का बृहस्पतिवार को पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। गौरव गोगोई ने अपने पिता का अंतिम संस्कार करने के बाद संवाददाताओं से कहा कि अस्पताल में अपने अंतिम दिनों के दौरान, राज्य के सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहे गोगोई ने डॉक्टरों से कहा था कि वह तिताबोर और उसके बाद राज्य के अन्य हिस्सों का दौरा करना चाहते हैं, और एक प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर लोगों को उन सपनों के बारे में बताना चाहते हैं जो उन्होंने देखे थे। 

इसे भी पढ़ें: असम के पूर्व CM तरुण गोगोई का पूरे राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार 

कलियाबोर से लोकसभा सदस्य गौरव ने कहा, ‘‘उनकी लोगों से मिलने और उनकी समस्याओं को समझने के लिए अपने निर्वाचन क्षेत्र और फिर राज्य भर की यात्रा करने की तीव्र इच्छा थी, जो बीमारी के कारण वह नहीं कर पाए।’’ दिवंगत नेता के परिवार ने उनकी अस्थियों को तिताबोर और फिर ब्रह्मपुत्र और बराक घाटियों, अपर और लोअर असम तथा नॉर्थ बैंक ले जाकर उनकी अंतिम इच्छा को पूरा करने का फैसला किया है। गौरव ने राज्य के लोगों को उनके पिता पर अपना प्यार बरसाने और इतनी बड़ी संख्या में आकर श्रद्धांजलि के लिए धन्यवाद दिया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।