जेसीबी कटर की चपेट में आया टेंपो, महिला की मौत आठ के हाथ-पैर कटे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 22, 2019   15:35
जेसीबी कटर की चपेट में आया टेंपो, महिला की मौत आठ के हाथ-पैर कटे

उन्होंने बताया कि जेसीबी के कटर की चपेट में आने से टेंपो के पीछे का हिस्सा बुरी तरह कट गया और इस हादसे में शीला देवी (43) की मौत हो गई जबकि आठ अन्य घायल हो गए। उनमें से किसी का हाथ तो किसी का पैर कटकर अलग हो गया।

भदोही (उप्र)। उत्तर प्रदेश के भदोही जिले के गोपीगंज क्षेत्र में टेंपो चालक की जल्दबाजी की वजह से हुए हादसे में एक महिला की मौके पर ही मौत हो गई तथा आठ अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस सूत्रों ने रविवार को बताया कि एक टेम्पो लगभग 10 यात्रियों को लेकर हंडिया से गोपीगंज आ रहा था। रास्ते में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या दो पर सिक्स लेन के निर्माण कार्य में लगी एक जेसीबी मशीन को उसका चालक उसे पीछे कर रहा था। इसी दौरान टेंपो चालक ने जेसीबी के पीछे से तेजी से अपना वाहन निकालने की कोशिश की लेकिन तब तक जेसीबी बैक हो चुकी थी और टेंपो उसके कटर की चपेट में आ गया। 

इसे भी पढ़ें: एटा की पटाखा फैक्ट्री में धमाका, 6 की मौत, 2 अन्य जख्मी

उन्होंने बताया कि जेसीबी के कटर की चपेट में आने से टेंपो के पीछे का हिस्सा बुरी तरह कट गया और इस हादसे में शीला देवी (43) की मौत हो गई जबकि आठ अन्य घायल हो गए। उनमें से किसी का हाथ तो किसी का पैर कटकर अलग हो गया। 

इसे भी पढ़ें: ढाई साल में योगी आदित्यनाथ के लिए कोई चुनौती नहीं खड़ा कर पाया विपक्ष

सूत्रों ने बताया कि घायलों में दामिनी देवी, गीता देवी और जय प्रकाश को चिंताजनक हालत में वाराणसी रेफर कर दिया गया है, जबकि बाकी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है और जेसीबी मशीन को कब्जे में ले लिया गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...